शिक्षक दिवस पर बच्चो के लिए हिंदी कविता

शिक्षक दिवस पर कविता में पिरोये कुछ शब्दों से अपने शिक्षक को अपने जीवन में उनका योगदान बताये. इस प्यारी सी कविता के माध्यम से हम उनको इस शिक्षक दिवस पर दे सकतें हैं कुछ शब्दों का ही खास तोहफा…..

शिक्षक दिवस पर कविता

तो आप भी इन शब्दों को समझने की कोशिश करे. और सोचे की अगर हमारी life में teacher नहीं होते तो हमारा सबका जीवन कैसा होता?

हैप्पी टीचर्स डे!!! आइए उनकों स्पेशल फील कराए, जिन्होनें बनाया है आपको स्पेशल

“कौन पढ़ता हमें जीवन का पहला, दूसरा, तीसरा….पाठ?
कैसे करते कैसे सोचते कि छह पंजे होते हैं साठ
और कौन कराता इस खूबसूरत दुनिया से परिचित?
कैसे जानते इतिहास, भूगोल, विज्ञान, गणित?”

शिक्षक दिवस की यह कविता भी जरूर पढ़े

तो चलिए पढ़ते हैं शिक्षक दिवस पर कविता

“गुरु ने हमको शिक्षा का पाठ पढ़ाया
नित दिन हमको जीना सिखाया
फंसे जो हम किसी काम में
हाथ पकड़कर सही मार्ग दिखाया
उनकी ही मधुर वाणी से
जीवन में हमारे भी मिठास आया
ये भी आया वो भी आया
हमको सब लिखना पढ़ना आया
आज जब शिक्षक का दिन आया
हमने भी उनके ही लिए
कुछ नाम कमाया
करके प्यारे टीचर का नाम रोशन
इस दिन को यादगार बनाया”

 

“गुरु हमारे इतने अच्छे हैं
हम भी उनके जैसे सच्चे हैं
रोज हमें वो अच्छी बात सिखाते
आदर्शों की कहानी सुनाते
समझ अगर पाठ नहीं आये
तरीका दूसरा वो बतलाते
कभी जोक से, कभी कहानी से
हम बच्चो का मन बहलाते
बैग का बोझ कम कराते
जब भी चाहे हम उनसे कहें
वो हमको नये-नये खेल खिलाते
मुसीबत में बनकर साथी
हमारी नैया पार लगाते
सीखकर उनसे जीवन का पाठ
लक्ष्य में अपने हम बढ़ते जाते
धैर्यता की इसी मिसाल से
हम उनको सदा शीश झुकाते
सारे विषयों का उनको ज्ञान
इसी लिए वो हमें पढ़ाते
हम भी अच्छा पढ़कर उनसे
उनके ही गुणगान हैं गाते
वो ही हमें सम्मान दिलाते
कुछ करने लायक हमें बनाते
कदम-कदम पर बनें परछाई
इसीलिए सच्चा गुरु कहलाते”

आप भी अपना शिक्षक दिवस यादगार रूप में मनाये और हमें कमेंट बॉक्स में बताये कि शिक्षक दिवस पर कविता आपको कैसी लगी?

!!Happy Teachers Day!!