World ozone day,16 september

World ozone day! दोस्तों हम 16 सितम्बर को World ozone day मनातें हैं. आपको बता दें की  23 जनवरी, 1995 को United Nations
Organization (U.N.O)की आम सभा में पूरे विश्व में, ओजोन के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए 16 सितंबर को International ozone day के रूप में मनाने का प्रस्ताव पारित किया. लक्ष्य 2010 तक रखा गया था. U.N.O को यकीन था कि 2010 ओजोन मित्र Environment बनाया जा सकेगा लेकिन ये लक्ष्य पूरी तरह से पूरा नहीं किया जा सका.

World ozone day

दोस्तों स्वच्छ भारत अभियान पर कविता जरूर पढ़ें

ओजोन क्या है:
ओजोन एक हल्के नीले रंग की गैस होती है.ओजोन परत सामान्यत: धरातल से 10 किलोमीटर से 50 किलोमीटर की ऊंचाई के बीच पाई जाती है यह गैस सूर्य से निकलने वाली पराबैंगनी किरणों के लिए फिल्टर का काम करती है.
Ozone Oxygen के तीन atoms से मिलकर बनने वाली एक गैस है, जो कि वातावरण में बहुत कम मात्रा में पाई जाती है. निचले वातावरण में पृथ्वी के निकट इसकी उपस्थिति प्रदूषण को बढ़ाने वाली और मानव ऊतक के लिए Harmful है, वहीं ऊपरी वायुमंडल में इसकी उपस्थिति जरुरी है. दोस्तों आपको बता दें कि यह गैस प्राकृतिक रूप से बनती है. जब सूर्य की किरणें वायुमंडल से ऊपरी सतह पर ऑक्सीजन से टकराती हैं तो High energy radiation से इसका कुछ हिस्सा ओज़ोन में परिवर्तित हो जाता है, इसके अलावा बादल, आकाशीय बिजली एवं मोटरों के विद्युत स्पार्क से भी ऑक्सीजन ओज़ोन में बदल जाती है.

पराबैगनी किरणों से नुकसान(Harmfulness of UV rays):
आमतौर पर Ultra violet radiation सूर्य से पृथ्वी पर आने वाली एक किरण है, जिसमें ज्यादा Energy होती है. और यह energy ओजोन की परत को नष्ट या पतला देती है. ओजोन परत हमें उन किरणों से बचाती है, जिनसे कई तरह की बीमारियां होने का खतरा रहता है .UV Radiation की बढ़ती मात्रा से Skin cancer, मोतियाबिंद के अलावा शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है. इसके अलावा इसका असर जैविक विविधता पर भी पड़ता है और कई फसलें नष्ट हो सकती हैं.

ओजोन दिवस का इतिहास(History of ozone day):
ओजोन परत के संरक्षण के लिए International ozone day को विश्व ओजोन दिवस के रूप में भी जाना जाता है .यह प्रत्येक वर्ष 16 सितम्बर को मनाया जाता है.
वर्ष 2015 के लिए World ozone day का विषय “30 year of healing the ozone together था. इस विषय को नारे  All there between you and UV से पूरा किया गया.

वर्ष 2015, ओजोन परत की संरक्षण के लिए किए गए वियना कन्वेंशन सम्मेलन में World ozone day की 30वीं वर्षगांठ मनाई गयी .

ओजोन परत के संरक्षण के लिए World ozone day के बारे में:
वर्ष 1994 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 16 सितंबर को ओजोन परत के संरक्षण के लिए World ozone day के रूप में मनाने की घोषणा की.

मांट्रियल प्रोटोकॉल (Montreal protocol):
अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने क्लोरोफ्लोरोकार्बन (CFC) तथा अन्य ओजोन ह्रासक पदार्थो, जैसे-हैलोन तथा कार्बन टेट्राक्लोराइड, पर नियंत्रण करने तथा वर्ष 2000 तक उन्हें पूर्ण रूप से प्रतिबंधित करने के लिये कदम उठाया. ओजोन परत पर विएना convention तथा उसके बाद ओजोन स्तर का ह्रास करने वाले पदार्थों पर मांट्रियल प्रोटोकॉल, जिसे 1987 में अपनाया गया तथा 1990 में और अधिक मजबूत बनाया गया. CFC तथा अन्य हानिकारक गैसों को समाप्त करने के लिए वर्ष 2000 की समय सीमा निर्धारित की थी. प्रोटोकॉल ने ओजोन क्षयकारकों तथा उन पर आधारित पदार्थों के अंतरराष्ट्रीय व्यापार के लिये नियमों का निर्धारण किया. चूंकि विकासशील देश विकसित देशों की तुलना में तकनीकी और आर्थिक रूप से पिछड़े हैं, वे CFC को नियंत्रित करने में कठिन चुनौतियों का सामना कर रहे हैं. अतः मांट्रियल प्रोटोकॉल के प्रावधानों को पूर्ण रूप से लागू करने के लिये इन देशों को दस वर्ष (अर्थात् 2010 तक) की छूट दी गई.

दोस्तों ओजोन परत को बचने के लिए वैश्विक पटल से बहुत कोशिशें हो रहीं है. हमारी भी ज़िम्मेदारी बनती है हानिकारक गैस वाली चीजों का प्रयोग धीरे-धीरे काम करे और नेचर के प्रति हमारी जो जिम्मेदारी है उसे निभाएं. ओजोन को बचाने का संकल्प हम सबके सहयोग से ही पूरा होगा.