तीसरे दिन करें माँ चंद्रघंटा की पूजा

तीसरी शक्ति “माँ चंद्रघंटा” (Third form of Maa Chandraghanta):

विश्वकर्मा जयंती क्यों मनाई जाती है

चंद्रघंटा

चंद्रघंटा माँ की पूजा नवरात्रो के तीसरे दिन की जाती है. माँ चंद्रघंटा के मस्तक पर घंटे के रूप का अर्ध चंद्र है. इसी कारण इनको चंद्रघंटा के नाम से जाना जाता है. माता का ये रूप सुखद शांति देने वाला और मनमोहक है. माता का शरीर सोने के समान चमकदार है. माँ के गले में सफेद सुंदर फूलों की माला होती है.
माँ के दस हाथ हैं जोकि सब किसी ना किसी अश्त्र-शस्त्र से सजे हुए हैं.
माता शेर पर सवारी करती है. माता का ये रूप युद्ध के लिए हमेशा तैयार दिखता है.
ऐसा माना जाता है कि माता के घंटे की तेज और भयभीत कर देने वाली ध्वनि से असुर, अत्याचारी राक्षस और दानव सभी डरते हैं.

अगर माँ भगवती की उपासना की जाती है तो आत्मिक शांति और अध्यात्मिक शक्ति मिलती है.

इनकी आराधना सदा फलदायी होती है.

माँ के भक्त इस दिन भक्ति एवम् श्रद्धा पूर्वक पूजा-अर्चना करते है. और माँ अपने बच्चो को सदा चिरायु और सुख-संपत्ति का वरदान देती है.

कहा जाता है कि इस दिन माँ  की उपासना करके महिलाओ को अपने घर पर बुलाकर भोजन कराया जाना चाहिए. और भेट स्वरूप उन्हे मंदिर की घंटी दी जाए तो माँ की कृपा सदा भक्तो पर बनी रहती है.

माँ चंद्रघंटा की पूजा का मंत्र (Mantra of MaaChandraghanta):
पिण्डज प्रवरारूढा चंडकोपास्त्र कैर्युता
प्रसाद तनुते मह्यं चंद्र घंष्टेति विश्रुता!!

भावार्थ:  अर्थात इनके माथे पर घंटे के आकर का अर्ध चंद्र है, इनके शरीर का रंग सोने के समान चमकीला है. इनके दसो हाथो में शस्त्र आदि है. ये सिंह पर सवारी करती है. इनकी मुद्रा युद्ध के लिए तैयार रहने वाली है. इनके घंटे की भयभीत ध्वनि से दानव दैत्य सभी डरते है.

माँ चंद्रघंटा की आरती(Aarti of MaaChandraghanta):

“नवरात्रि के तीसरे दिन चंद्रघंटा का ध्यान!
मस्तक पर है अर्ध चन्द्र, मंद मंद मुस्कान!!
दस हाथों में अस्त्र शस्त्र रखे खड़ग संग बांद!
घंटे के शब्द से हरती दुष्ट के प्राण !!
सिंह वाहिनी दुर्गा का चमके स्वर्ण शरीर!
करती विपदा शांति हरे भक्त की पीर!!
मधुर वाणी को बोल कर सब को देती ज्ञान !
जितने देवी देवता सभी करें सम्मान !!
अपने शांत सवभाव से सबका करती ध्यान!
भव सागर में फँसा हूँ मैं, करो मेरा कल्याण!!
नवरात्रों की माँ, कृपा कर दो माँ!
जय माँ चंद्रघंटा, जय माँ चंद्रघंटा!!”

Skill India,भारत कौशल मिशन

भारत कौशल मिशन!!! भारत में कई सरकार आयी और गयी लेकिन आम लोगों की स्थिति जस की तस बनी हुई है.

विश्वकर्मा जयंती क्यों मनाई जाती है

बढ़ती जनसंख्या और कौशल की कमी के कारण युवा बेरोजगार हैं, और गरीबी में जीवन जीने को मजबूर हैं.

भारत कौशल मिशन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत कौशल मिशन की शुरुआत करके भारत के स्किल इंडिया बनाने के अपने विजन पर जोर दिया है. मोदी स्किल इंडिया को गरीबी के विरुद्ध एक जंग मानते हैं और देश का हर युवा उनके इस युद्ध में उनका सिपाही है. प्रधानमंत्री ने भारत कौशल मिशन की शुरुआत करते हुए कहा कि देश को गरीबी से मुक्त करने के लिए उनकी सरकार प्रतिबद्ध है.
देश को विकास के रास्ते पर अग्रसर करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुशल भारत कौशल भारत योजना की शुरुआत की है इस योजना के अंतर्गत 2022 तक 40 करोड़ भारतीय लोगों को प्रशिक्षित किया जाएगा.

स्किल इंडिया का मिशन और मुख्य उद्देश्य(Motto of Skill India):
भारत कौशल मिशन

कौशल विकास योजना का मुख्य उद्देश्य भारत के लोगों को विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षित कर उनके  कार्य क्षमता को बढ़ाना है. कौशल विकास योजना से युवा स्किल सीख कर अपना काम शुरू कर सकते हैं. प्रधानमंत्री युवाओं को हमेशा नौकरी सृजन करने की सलाह भी देते हैं.

  • योजना का मुख्य उद्देश्य उन बच्चों के अंदर छिपी प्रतिभा को निखारना है जो गरीबी के कारण उच्च शिक्षा नहीं प्राप्त कर सके.
  • प्रयोजित तरीके से गरीबों और गरीब युवाओं को संगठित करके उनके कौशल का विकास करके गरीबी का ख़त्म करना करना है.
  • गरीबों को रोजगार के काबिल बनाकर उनमे आत्मविश्वास भरना.
  • भारत की  65% जनसंख्या 35 वर्ष से कम है को रोजगार से संबंधित चुनौतियों का सामना करने के लिये अवसर प्रदान करना.
  • युवा जिस भी कौशल (जैसे: गाड़ी चलाना, कपड़े सिलना, खाना बनाना, सफाई करना, मकैनिक का काम करना, बाल काटना, आदि) को जानते हैं, उसी कौशल को निखारकर व प्रशिक्षित करके उसके काम को सरकार द्वारा मान्यता प्रदान करना.
  • देश में मौजूद सभी तकनीकी संस्थाओं को बदलती तकनीक के अनुसार गतिशील बनाना.

इस कौशल विकास योजना में नया क्या है?

आपको बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा शुरु की गयी कौशल भारत योजना नयी नही है. इससे पहले U.P.A सरकार ने भी Skill development योजना को शुरु किया था. कांग्रेस के समय 2022 तक लगभग 500 मिलियन भारतीयों का Skill develop करने का लक्ष्य रखा था. भाजपा ने 40 करोड़ लोगों को कुशल बनाने का लक्ष्य रखा है. सरकार ने इस योजना में उद्यमी संस्थाओं को जोड़ा हैं और भारत में काम करने वाली सभी गैर-सरकारी संस्थानों से भी संबंध स्थापित किया है. कांग्रेस के समय ये योजना 20 मंत्रालयों द्वारा संचालित की जाती अब मोदी सरकार ने इसे एक मंत्रालय द्वारा संचालित की जा रही है.

कौशल भारत–कुशल भारत मिशन के लाभ(Benefits of Skill India):

कौशल भारत मिशन के जरिये मोदी सरकार ने गरीब और संसाधनों से वंचित युवाओं को प्रशिक्षित करके बेरोजगारी की समस्या और गरीबी को देश से खत्म करने का लक्ष्य रखा है.
इस मिशन का Mission प्रशिक्षण के जरिये युवाओं में आत्मविश्वास को लाना है जिससे उत्पादकता में वृद्धि हो सके. इस योजना में सरकारी, निजी और गैर-सरकारी संस्थानों के साथ साथ शैक्षिक संस्थाएं भी मिलकर काम करेंगी.

इस मिशन के कुछ मुख्य लाभ निम्नलिखित है:

  • इस मिशन के माध्यम से युवाओं को प्रशिक्षित करके भारत में बेरोजगारी की समस्या के निवारण में सहायता करना.
  • उत्पादकता में वृद्धि करना.
  • भारत से गरीबी खत्म करने में सहायता करना.
  • भारतीयों में छिपी हुई योग्यता को बढ़ावा देना.
  • राष्ट्रीय आय के साथ-साथ प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि करना.
  • लोगों की जीवन निर्वाह आय में वृद्धि करना.
  • भारतीयों के जीवन स्तर में सुधार करना.

आप अपनी रूचि के अनुसार अपने स्किल को निखार सकते हैं इसके लिए सरकार आपकी हर संभव मदद करने के लिए तैयार है आप इस लिंक https://www.nsdcindia.org/hi/ पर जाकर अपनी समस्याओं का समाधान पा सकते हैं.

विश्वकर्मा जयंती क्यों मनाई जाती है

विश्वकर्मा पूजा!!!
विश्वकर्मा पूजा

विश्वकर्मा पूजा क्यों मनाते है? और विश्वकर्मा भागवान का नाम सुनते ही हमारे दिमाग में आता है जिसने विश्व का निर्माण किया हो.

नवरात्र में भूल कर भी ना करें ये काम

यहां पर हम आपको विश्वकर्मा पूजा की विधि से लेकर विश्वकर्मा के जीवन से जुड़ी सभी पौराणिक और वैदिक बाते बताएंगे जो इससे पहले शायद आपको ना पता हों.
भागवान विश्वकर्मा ने ही पूरी सृष्टि का निर्माण किया है वो इस जगत के शिल्पकार हैं.
अगर आपको हिंदी के इन भरी-भरकम शब्दों को समझने में दिक्कत हो रही है तो आप इन्हें आज के हिसाब से Engineer भी कह सकते हैं.

विश्वकर्मा जयंती कब मनाई जाती है (Day of celebration):
विश्वकर्मा जयंती हर साल कन्या सक्रांति के दिन मनाई जाती है. इस साल 2017 में इसे 17 सितम्बर Sunday को मनाया जाएगा.
विश्वकर्मा पूजा सभी इंजीनियर, उपकरण और धातु बनाने वाले लोग बड़ी श्रद्धा के साथ करते हैं. इस दिन वो अपने औज़ार और हथियार की भी पूजा करते हैं.
पुराणों और वेदो के अनुसार भागवान विश्वकर्मा ने ही भागवान श्री कृष्ण की नगरी द्वारिका, शंकर भागवान द्वारा रावण को भेट की गयी लंका और युधिष्ठिर की नगरी इंद्रप्रस्थ का निर्माण अपने हांथों से किया था.

विश्वकर्मा का जन्म(Birth of Vishwkarma):
विश्वकर्मा पूजा

पुराणों के अनुसार भागवान विष्णु के अवतार के वक्त उनके नाभि में ब्रम्हा जी विराजमान थे. भागवान ब्रम्हा को जगत का रचयिता कहा जाता है. ब्रम्हा को एक पुत्र की प्राप्ति हुई जोकि स्वयं भागवान विश्वकर्मा थे जो अपने पिता के तरह ही श्रेष्ठ शिल्पकार बने और ब्रम्हांड का निर्माण करने लगे.

विश्वकर्मा पूजा कथा (Katha of Vishwkarma Puja):
पुराने समय में एक व्यापारी था जो दिन-रात कड़ी मेहनत करता था. उसकी पत्नी भी उसके साथ बहुत मेहनत करती थी लेकिन उनके नसीब में सुख दूर-दूर तक नहीं था.
इसलिए उन्हें अमावस्या के दिन विश्वकर्मा भागवान की पूजा करने की बात किसी व्यक्ति ने बताई. उस आदमी के कहे अनुसार दोनों ने भागवान विश्वकर्मा की पूजा की उन्हें पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई और उनका जीवन आराम से गुजरने लगा.
इस तरह भागवान विश्वकर्म के व्रत का फल उन्हें मिला.

विश्वकर्म पूजा विधि(Vishwkarma Puja vidhi):
भागवान विश्वकर्म की पूजा उनकी मूर्ति को स्थापित करके की जाती है. पुराणों और वेदों में इनकी विभिन्न प्रकार के चित्र देखने को मिलते हैं.
सुबह नित्य कर्म के बाद ही पूजा आरम्भ करें.
हर पूजा में पत्नी का साथ होना आवश्यक है लेकिन यह पूजा में विशेष रूप से अर्धांगिनी के साथ करना चाहिए.
पत्नी के साथ मिलकर ही यज्ञ में सम्मिलित होना चाहिए.
हाथ में चावल लेकर विश्कर्मा जी को स्मरण कर इस मंत्र का उच्चारण करना चाहिए- “ॐ आधार शक्तपे नम: और ओम् कूमयि नम: ओम अनन्तम नम:, पृथिव्यै नमः या ॐ श्री श्रिष्टनतया सर्वसिद्धहया विष्वकर्माया नमो नमः”

विश्वकर्मा जी की आरती(Arti of lord Vishwkarma):

जय विश्वकर्मा प्रभु जय श्री विश्वकर्मा
सकल सृष्टि के करता रक्षक स्तुति धर्मा
आदि सृष्टि में विधि को श्रुति का उपदेश दिया
जीव मात्र का जग में विकास किया
ऋषि अंगिरा तप से शांति नहीं पायी
रोग ग्रस्त राजा ने जब आश्रय लीना
संकट मोचन बनकर दुःख दूर कीना
जय विश्वकर्मा प्रभु जय श्री विश्वकर्मा
जब रथकार दम्पति तुम्हारी तेर करी
सुनकर दीन प्रार्थना विपत हरी सगरी
एकानन, चतुरानन पंचानन राजे
द्विभुज, चतुर्भुज, दशभुज सकल रूप साजे
ध्यान धरे तब पद का सकल सिद्धि आवे
मन दुविधा मिट जावे सकल सिद्धि पावे
मन दुविधा मिट जावे अटल शक्ति पावे
श्री विश्वकर्मा जी की आरती जो कोई नर गावे
भजत गजानंद स्वामी सुख संपत्ति पावे.

वजन कम करने के Top tips

वजन कम करने के अचूक उपाय!!!

Child Care Tips

वजन कम करने के अचूक उपाय आपको बिना किसी ख़ास त्याग और मेहनत के आपका वजन कम करने में मदद करेगा.
वजन कम करने के अचूक उपाय

वजन कम करने के अचूक उपाय में हम आपको फिट होने का हर तरीका बताएंगे. कहते हैं जब वजन बढ़ ज्यादा है तो इंसान बेकार और सुस्त नजर आने लगता है. लेकिन इन सब के अलावा भी कुछ चीजें हैं जो वजन बढ़ने के साथ बढ़ती है.
हमारी ज़िंदगी की परेशानियां और मुश्किलें और बहुत से Case में तो लोग अपना आत्मविश्वास तक खो देते हैं. आपको नहीं लगता कि वजन का बढ़ना और उसका ठीक रहना हमारे हाथ में है?
Friends, मोटापा अपने साथ हीनता के अलावा भी बहुत कुछ लेकर आता है. मोटापा एक नहीं बल्कि कई बीमारियों की जड़ है, और यकीन मानिये अगर आप अपने मोटापे को control कर लें तो आप कई गंभीर समस्याओं से बच सकते हैं.
आइये हम आपको कुछ ऐसे Tips बताते हैं जों आपको ना केवल Strong, Slim और Fit बनाएंगे बल्कि Doctor के घर लगने वाले फालतू के चक्करों से भी बचाएंगे तो तैयार हैं आप वजन घटाने के लिए ?

योग और व्यायाम (Yoga & Exercise):
वजन कम करने के अचूक उपाय

रुकिए मुँह बनाने की जरूरत नहीं है, पता है आपको लग रहा होगा सब यहीं बोलते हैं.लेकिन आप भी तो हद करते हैं जब सब बोलते हैं तो आप मानते क्यों नहीं?दोस्तों वैज्ञानिक भी यह मान चुकें हैं कि योग और व्यायाम का कोई तोड़ नहीं है. और आप Fat हैं सिर्फ इसलिए योग करने की जरूरत नहीं है.
आपको अपने मंदिर जैसे शरीर की क़द्र है और आप इसको आत्मिक,शारीरिक स्तर पर साफ और निर्मल रखना चाहतें हैं इसलिए जरुरी है.
आप सिर्फ एक हफ्ते का Routine Follow कीजिये आपको अंदर से एक नयी Energy मिलेगी. और अगर आपके दिन की शुरुआत ही ऊर्जा से हो रही है तो दिन तो अच्छा जाना ही है.
और हाँ जरुरी नहीं है कि आप शुरुआत से ही 1 घंटा व्यायाम करने लगें. हमेशा छोटे और दृढ संकल्प के साथ बढ़ें, कभी मुश्किल नहीं आएगी.

शुरुआत बस 20 minute के yoga और exercise से करें धीरे-धीरे आपको आदत हो जाएगी और आप खुद को बहुत बदला हुआ महसूस करेंगे.
आप सोच रहे होंगे योग और व्यायाम तो आपको आते ही नहीं है, घबराइए नहीं अगर आप चाहें तो कुछ भी मुश्किल नहीं है. आप Internet से Yoga Poses और व्यायाम के वीडियो Download कर सकते हैं. और डाउनलोड करते वक्त ये ध्यान रखें कि Source विश्वसनीय हो, रामदेव बाबा के Videos आपकी बहुत मदद कर सकते हैं.

सुबह का नाश्ता न छोड़े(Never Skip Morning Breakfast):
वजन कम करने के अचूक उपाय

वजन कम करने के अचूक उपाय में अब बारी है दूसरे कदम की, वजन कम करने का आपके खाने से कोई लेना-देना नहीं है उल्टा अगर आपने खाना छोड़ दिया तो कमजोरी होगी और लेने के देने पड़ सकते हैं.
वजन घटाने के लिए लोग Dieting शुरू कर देते हैं. लोगों को ऐसा लगता है ये सबसे आसान तरीका है. लेकिन कभी भी सुबह का नाश्ता Miss मत करिये ये आपकी Body को Rhythm देता है.
अगर शुरुआत ही Dull हुई तो आप बाकि का Target कैसे पूरा करेंगे?
नाश्ते में आप फल,सलाद,जूस,दही, दलिया अदि जैसी पौष्टिक और सेहतमंद चीजों को शामिल कर सकते हैं.

अच्छी नींद लें(Good Sleep):
वजन कम करने के अचूक उपाय

वजन कम करने के अचूक उपाय में हम आपको तीसरे पड़ाव के बारे में बताते हैं. आप सोच रहे होंगे कि नींद का आपके वजन के साथ क्या कनेक्शन?
लेकिन कनेक्शन है बहुत गहरा कनेक्शन है. Stress हमारे System को Damage करता है.
और इसकी वजह होती है ढंग से नींद यानी की 6-8 घंटे की नींद ना लेना.
आराम से नींद लें ये आपका मोटापा काम करने में मदद करता है.

मीठा कम खाएं (Avoid Sugar):
वजन कम करने के अचूक उपाय

वजन कम करने के अचूक उपाय कि अगर आप फिट एंड फाइन रहना चाहते हैं तो मीठी चीज आपके लिए ज़हर है तुरंत इसे छोड़ दीजिये या बहुत ही काम मात्रा में लीजिये. मीठी चीज में कैलोरी बहुत ज्यादा होती हैं इसलिए कोशिश करिये कि आप मीठा काम ही खाएं.

खूब पानी पिएं(Drink Water):
वजन कम करने के अचूक उपाय

वजन कम करने के अचूक उपाय को फॉलो करते हुए इस बात को भी मानें.
पानी पीना हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है कम से कम रोजाना 5 से 6 लीटर पानी जरूर पिएं और कोशिश करें कि Liquid Food को अपने Diet में शामिल करें. खाने से तकरीबन एक घंटा पहले पानी पीना फायदेमंद होता है.

डाइट चार्ट में प्रोटीन को जगह दे(Protein Diet):
वजन कम करने के अचूक उपाय

वजन कम करने के अचूक उपाय में आपको बता दें, प्रोटीन वजन कम करने में बेहद फायदेमंद होता है. आप प्रोटीयुक्त चीजों का सेवन करें इससे आपको पेट भरा भरा महसूस होगा और भूख कम लगेगी और भूख कम लगेगी तो आप unhealthy चीजों को नहीं खाएंगे.

ग्रीन टी(Green Tea):
वजन कम करने के अचूक उपाय

हरी चाय (Green Tea) वजन को काम करने में बहुत कारगर साबित होती है इसमें कई ऐसे गुण मौजूद हैं जो इसे एक औषधि के दर्जे में लाकर खड़ा करते हैं.
इसमें Antioxidants और caffeine की मात्रा पायी जाती है जो चर्बी को कम करती है इसलिए दिन में काम से काम एक बार ग्रीन टी जरूर पिएं. एंटीऑक्सिडेंट्स शरीर के विषैले तत्वों को नष्ट करता है.

फ़ास्ट फ़ूड को ना(Say no to fast food):
वजन कम करने के अचूक उपाय

Fast food में बहुत ज्यादा मात्रा में Fat मौजूद रहता है जो आपके शरीर कि चर्बी को बढ़ा देता है इसलिए खुद पर control रखें और घर का बना शुद्ध और पौष्टिक खाना ही खाएं.

खाने को चबा कर खाएं(Chewing the food):
वजन कम करने के अचूक उपाय

समय की कमी सबके पास है लेकिन खाते वक्त पूरा ध्यान खाने पर ही रखें और कोशिश करें की खाने को निगलने के बजाय चबा कर खाएं.
निगला हुआ खाना पचने में मुश्किल पेश आती है और गैस आदी की समस्या शुरू हो जाती है.

वजन काम करने के घरेलू उपाय(Home Tips For weight Loss):

  • सुबह खली पेट करेले का जूस पीने से पेट की चर्बी बहुत जल्दी काम हो जाती है.
  •  एक बार में ज्यादा भोजन करना गलत है इसकी जगह आप कम भोजन करें और दिन में Small Meals लेते रहे.
  • अगर आप गेहू के आटे की रोटी खाते हैं तो उसकी जगह. चने का आटा और जौ के आटे का रोटी बनाकर खाना शुरू करें.

उम्मीद है आपको ये जानकारियां अच्छी लगी होंगी वजन कम करने से जुड़ा कोई भी सवाल हो आप हमसे बेझिझक कमेंट बॉक्स में जाकर पूछ सकतें है.
इन टिप्स को Follow करिये. मुश्किल नहीं है कुछ भी अगर ठान लीजिये. और अपने नए Confident लुक से सबको चौका दीजिए

World Tourism Day

World Tourism Day!!! विश्व पर्यटन दिवस, दुनियाभर में 27 सितंबर को वर्ल्ड टूरिज्म डे मनाया जाता है. 1980 में यूनाइटेड नेशन वर्ल्ड टूरिज्म ऑर्गनाइजेशन ने World Tourism Day की शुरुआत की. इसका मकसद अंतरराष्ट्रीय समुदाय में पर्यटन को लेकर लोगों में जागरूकता लाना है. साथ ही, ये बताना है कि पर्यटन किस तरह सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक मूल्यों को प्रभावित करता है. World Tourism Day हर साल अलग-अलग थीम पर मनाया जाता है.

भारत कौशल मिशन पर लेख

World Tourism Day

World Tourism Day समारोह संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन द्वारा 1980 में शुरु किया गया जो प्रत्येक वर्ष 27 सितम्बर को मनाया जाता है. यह विशेष दिन इसलिये चुना गया क्योंकि इस दिन 1970 में W.T.O(World Trde Organization) के कानून प्रभाव में आये थे. जिसे विश्व पर्यटन के क्षेत्र में बहुत बडा मील का पत्थर माना जाता है. इसका लक्ष्य विश्व पर्यटन की महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में अन्तर्राष्ट्रीय समुदायों के साथ-साथ सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक मूल्यों को वैश्विक स्तर पर कैसे प्रभावित करता है, के बारे में लोगों को जागरुक करना है. ये दिन हर साल एक विशेष विषय के साथ लोगों को जागरुक करने के लिये पूरे विश्व में मनाया जाता है.

World Tourism Day

World Tourism Day:
हर वर्ष आम जनता के लिए एक संदेश W.T.O के महासचिव द्वारा इस अवसर में भाग लेने के लिए भेजा जाता है. ये विभिन्न पर्यटन उद्यमों, संगठनों, सरकारी एजेंसियों और आदि के द्वारा बहुत रुचि के साथ मनाया जाता है. इस दिन विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताएँ जैसे
पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये फोटो प्रतियोगिता,
मुफ्त प्रवेश के साथ पर्यटन पुरस्कार प्रस्तुतियाँ,
आम जनता के लिये छूट आदि आयोजित किये जाते हैं.
Tourism विकासशील देशों के लिए आय का मुख्य स्रोत बन गया है.

पर्यटन दिवस 2017 थीम:
वर्ष 2017 में वर्ल्ड टूरिज्म डे(World Tourism Day) की थीम
“Sustainable tourism – a tool for development” निर्धारित की गयी है.

World Tourism Day Theme so far:

  • 1980 का विषय “सांस्कृतिक विरासत और शांति और आपसी समझ के संरक्षण के लिए पर्यटन का योगदान” था.
  • 1981 का विषय “पर्यटन और जीवन की गुणवत्ता” था.
  • 1982 का विषय “यात्रा में गर्व: अच्छे मेहमान और अच्छे मेजबान” था.
  • 1984 का विषय “अंतरराष्ट्रीय समझ, शांति और सहयोग के लिए पर्यटन” था.
  • 1985 का विषय “युवा पर्यटन: शांति और दोस्ती के लिए सांस्कृतिक और ऐतिहासिक विरासत” था.
  • 1986 का विषय “पर्यटन: विश्व शांति के लिए एक महत्वपूर्ण शक्ति” था.
  • 1987 का विषय “विकास के लिए पर्यटन” था.
  • 1988 का विषय “पर्यटन सभी के लिए शिक्षा” था.
  • 1989 का विषय “पर्यटकों का मुक्त आवागमन एक दुनिया बनाता है” था.
  • 1990 का विषय था “पर्यटन: एक अपरिचित उद्योग, एक मुक्त सेवा”.
  • 1991 का विषय “संचार, सूचना और शिक्षा: पर्यटन विकास की शक्ति कारक” था.
  • 1992 का विषय “पर्यटन: एक बढ़ती सामाजिक और आर्थिक एकजुटता का कारक है और लोगों के बीच मुलाकात का” था.
  • 1993 का विषय “पर्यटन विकास और पर्यावरण संरक्षण: एक स्थायी सद्भाव की ओर” था.
  • 1994 का विषय “गुणवत्ता वाले कर्मचारी, गुणवत्ता पर्यटन” था.
  • 1995 का विषय “विश्व व्यापार संगठन: बीस साल से विश्व पर्यटन में सेवारत” था.
  • 1996 का विषय “पर्यटन: सहिष्णुता और शांति का एक कारक” था.
  • 1997 का विषय “पर्यटन: इक्कीसवीं सदी की रोजगार सृजन और पर्यावरण संरक्षण के लिए एक अग्रणी गतिविधि “
  • 1998 का विषय “सार्वजनिक-निजी क्षेत्र भागीदारी: पर्यटन विकास और संवर्धन की कुंजी” था.
  • 1999 का विषय था “पर्यटन: विश्व धरोहर का नयी शताब्दी के लिये संरक्षण.”
  • 2000 का विषय “प्रौद्योगिकी और प्रकृति: इक्कीसवीं सदी के प्रारंभ में पर्यटन के लिए दो चुनौतियॉ”
  • 2001 का विषय “पर्यटन: सभ्यताओं के बीच शांति और संवाद के लिए एक उपकरण “
  •  2002 का विषय “पर्यावरण पर्यटन सतत विकास के लिए कुंजी”
  • 2003 का विषय “पर्यटन: गरीबी उन्मूलन, रोजगार सृजन और सामाजिक सद्भाव के लिए एक प्रेरणा शक्ति”
  • 2004 का विषय “खेल और पर्यटन: आपसी समझ वालो के लिये दो जीवित बल, संस्कृति और समाज का विकास”
  • 2005 का विषय “यात्रा और परिवहन: जूल्स वर्ने की काल्पनिकता से 21 वीं सदी की वास्तविकता तक”
  • 2006 का विषय “पर्यटन को समृद्ध बनाना”
  • 2007 का विषय “पर्यटन महिलाओं के लिए दरवाजे खोलता है”
  • 2008 का विषय “जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिंग की चुनौती का जवाब पर्यटन”
  • 2009 का विषय “पर्यटन-विविधता का उत्सव”
  • 2010 का विषय “पर्यटन और जैव विविधता”
  • 2011 की विषय “पर्यटन संस्कृति को जोड़ता है”
  • 2012 का विषय “पर्यटन और ऊर्जावान स्थिरता”
  • 2013 का विषय “पर्यटन और जल: हमारे साझे भविष्य की रक्षा”
  • 2014 का विषय “पर्यटन और सामुदायिक विकास”
  • 2015 का विषय “लाखों पर्यटक, लाखों अवसर”
  • 2016 का विषय “सभी के लिए पर्यटन”

विश्व पर्यटन संगठन WTO ने वर्ष 1975 में विश्व के पचास देशों की आधिकारिक सदस्यता के साथ, विश्व स्तर पर पर्यटन उद्योग के संरक्षक के रूप में अपनी गतिविधियों का आरम्भ किया. इस संगठन का एक मूल दायित्व लोगों के बीच संपर्क बनाना एवं इस लोकप्रिय उद्योग को बढ़ावा देना है. विभिन्न आयामों वाले इस उद्योग की विशेषताओं जैसे कि
नए प्रस्तावों की प्रस्तुति,
आर्थिक एवं सांस्कृतिक और सामाजिक लाभ और उसकी विशेषताओ के विवरण हेतु विस्तृत योजना बनाने की आवश्यकता है.
प्रतिवर्ष विश्व पर्यटन संगठन के सदस्य दृष्टिगत उद्देश्यों की प्राप्ति के लिए सम्मेलनों एवं बैठकों में विभिन्न प्रकार के निर्णय लेते हैं. इसी परिप्रेक्ष्य में, WTO  के सदस्यों एवं सचिवालय ने यह निर्णय लिया कि एक विस्तृत संदेश द्वारा विश्व समुदाय का ध्यान पर्यटन की ओर आकृष्ट कराएं और सरकारों, समाज, विश्वविद्यालयों एवं इस विषय से संबंधित समस्त विभागों को इसकी ओर प्रोत्साहित करें ताकि आम लोगों के जीवन में पर्यटन अपना स्थान बना ले.

1980 से यह निर्णय लिया गया कि प्रतिवर्ष WTO की ओर से एक संदेश दिया जाए और समस्त सदस्य देश इस संदेश के अंतरगत पर्यटन उद्योग से संबंधित अपनी योजनाएं बनाएं और उनका क्रियान्वयन करें.
पर्यटन को जारी रखने के लिए स्वच्छ एवं शुद्ध पानी का उपलब्ध होना अति महत्वपूर्ण है कि जिसमें विस्तृत रूप से होटलों और रेस्टोरेंटों की श्रंखलाओं से लेकर परिवहन एवं मनोरंजन के साधन भी शामिल होते हैं.
विश्व पर्यटन संगठन ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में घोषणा की है कि वैश्विक आर्थिक समस्याओं के बावजूद, अधिकांश देशों में पर्यटन उद्योग में विस्तार हो रही है प्रतिवर्ष करोंड़ों लोग विश्व के विभिन्न पर्यटन स्थलों पर जाते हैं.

Happy Tourism Day!!

Lucknow Central Trailer 2017, सपने या आजादी

सपने या आजादी किसको चुनेंगे आप ? फरहान अख्तर की फिल्म Lucknow Central  का ट्रेलर रिलीज़ हो चुका है आखिर फिल्म में किसको चुनेंगे फरहान सपनों को या आज़ादी को.
Simran movie trailer 2017
Lucknow Centralफिल्‍म में फरहान के साथ डायना पेंटी और ‘तनु वेड्स मनु’ से अपनी पहचान बनाने वाले एक्‍टर दीपक डोबरियाल भी नजर आएंगे, ट्रेलर में डायना और दीपक का किरदार रोचक और मजेदार नजर आ है.

फिल्म Lucknow Central का पोस्‍टर रिलीज करने लखनऊ सेंट्रल जेल पहुंचे थे फरहान आपको बता दें कि फिल्म 15 सिंतबर को रिलीज हो रही है और इसी दिन कंगना की सिमरन भी रिलीज़ हो रही है. फरहान और कंगना दोनों ही दमदार एक्टर्स हैं और बॉक्स ऑफिस पर टक्कट कांटे की होगी देखते हैं दर्शक किसको अपना प्यार देते हैं.

फिल्म का गाना:

लगभग ढाई मिनट के इस ट्रेलर में दिखाने की कोशिश की गई है कि कैसे एक भोजपुरी गायक बनने का सपना रखने वाले, उत्तर प्रदेश के मुराबाद के रहने वाले किशन मोहन (फरहान अख्‍तर) को खून के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया जाता है. किशन का सपना था कि वह एक खुद का म्‍यूजिक बैंड बनाए लेकिन अब वह लखनऊ सेंट्रल जेल में बैंड बनाने का सपना पूरा करता है. लेकिन जेल में अपना बैंड बनाने के पीछे सिर्फ उसका सपना नहीं है, बल्कि इसके जरिए वह जेल के कुछ कैदियों के साथ जेल से भागने की तैयारी करता है. फिल्म के ट्रेलर को देख के आपको समझ आएगा कि फरहान मर्डर केस में सिर्फ बलि का बकरा बने हैं इस फिल्‍म में फरहान के साथ नजर आने वाली हैं एक्‍ट्रेस डायना पेंटी, ‘हैपी भाग जाएगी’ के बाद अब बड़े पर्दे पर वापसी कर रहीं हैं. डायना इस फिल्‍म में एक एनजीओ वर्कर का किरदार निभाते नजर आएंगी.
सच्‍ची घटनाओं पर आधारित है ‘लखनऊ सेंट्रल’ : इस फिल्‍म में रोनित रॉय, पंजाबी स्‍टार गिप्‍पी ग्रेवाल, राजेश शर्मा और रवि किशन भी नजर आने वाले हैं. यह फिल्‍म दरअसल असली घटनाओं से प्रेरित है. फिल्‍म का निर्देशन रंजीत तिवारी और निखिल आडवानी ने किया है.
‘लखनऊ सेंट्रल’ में फरहान अख्‍तर के साथ पंजाबी स्‍टार गिप्‍पी ग्रेवाल भी नजर आएंगे

भारत में Bullet train, 14 सितम्बर से शुरू होगा काम

दोस्तों भारत में Bullet train चलने की बात करना दिन में तारे देखने से कम नहीं था, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह सपना देखा और उसको हकीकत बनाने के लिए हर कोशिश कर रहे हैं.
Simran movie trailer 2017
Bullet train
जी हाँ दोस्तों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे 14 सितंबर को मुंबई से अहमदाबाद के बीच चलने वाली देश की पहली Bullet train की नींव का उद्घाटन करेंगे. इस प्रोजेक्ट को मुंबई अहमदाबाद Bullet train के नाम से जाना जाता है, यह एक दूरगामी प्रोजेक्ट है जिसमें सुरक्षा और रफ्तार पर खास ध्यान दिया जाएगा. इस प्रोजेक्ट के जरिए भारतीय रेल विश्व स्तर पर रफ्तार और सुविधा और क्षमता के क्षेत्र में अपनी नई पहचान  बनाने में सफल होगी

भारत को आर्थिक मदद:
Bullet train
 88,000 करोड़ का लोन इस मेट्रो प्रोजेक्ट को भारत जापान के साथ मिलकर पूरा करेगा, दोनों ही देशों के बीच इस प्रोजेक्ट के लिए करार हुआ है, जापान भारत को 88,000 करोड़ रुपए का लोन देगा, दोस्तों इस लोन की ब्याज दर सुनकर आप हैरान रह जाएंगे यह लोन महज 0.1 फीसदी की ब्याज दर पर दिया जाएगा. और भारत को इस लोन का रीपेमेंट 15 वर्ष बाद देना होगा.  भारत सरकार का कहना है कि इतना लंबा समय और कम ब्याज दर एक तरह से इस लोन को ब्याजमुक्त बनाता है इस प्रोजेक्ट में 80 फीसदी व्यय जापान करेगा भारत इस प्रोजेक्ट के लिए जो लोन प्राप्त कर रहा है वह तकरबीन शून्य ब्याज के बराबर है, जिसके चलते भारत की मौजूदा वित्तीय व्यवस्था पर किसी भी तरह का कोई दबाव नहीं पड़ेगा. दोस्तों इस प्रोजेक्ट के लिए 80 फीसदी से अधिक व्यय का खर्च जापान सरकार उठा रही है. पहली बार किसी इतने बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट को किसी दूसरे देश ने इतनी ज्यादा सहूलियत के साथ करार किया हो. मोदी के इस सपने और Bullet train के प्रोजेक्ट के जिरए मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट का बड़ा मुकाम देने की कोशिश की जाएगी, दोनों सरकारों के बीच जो प्रोजेक्ट साइन किया गया है उसके अनुसार इसे मेक इन इंडिया और ट्रांसफर ऑफ टेक्नोलॉजी के तहत किया गया है. इसके प्रोजेक्ट पर चार सब ग्रुप बनया गया है जिसमे भारतीय उद्योग, जापानी उद्योग, डीआईपीपी, एनएचएसआरसीएल और जेट्रो के प्रतिनिधि शामिल होंगे, जो मेक इन इंडिया के लिए आवश्यक क्षमताओं की पहचान करने में मदद करेंगे. निवेश को मिलेगा बढ़ावा इस प्रोजेक्ट से पहले ही भारत और जापान के उद्योगपतियों में सक्रिय बातचीत का दौर पहले ही शुरू हो चुका है, दोनों सरकारों को इस बात का भरोसा है कि आने वाले समय में कई और प्रोजेक्ट को दोनों देश मिलकर पूरा करेंगे, जिससे की मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में और भी बड़ी उपलब्धि को हासिल किया जा सके. सक्रिय बातचीत का दौर पहले ही शुरू हो चुका है, दोनों सरकारों को इस बात का भरोसा है कि आने वाले समय में कई और प्रोजेक्ट को दोनों देश मिलकर पूरा करेंगे, जिससे की मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में और भी बड़ी उपलब्धि को हासिल किया जा सके. जापान के साथ शुरू हो रहे इस प्रोजेक्ट के जरिए देश में आधुनिक तकनीक आएगी और बड़ी संख्या में युवाओं को रोजगार भी हासिल होगा.

Simran movie trailer 2017

दोस्तों डायरेक्टर निर्देशक हंसल मेहता की फिल्म बॉलिवुड अभिनेत्री कंगना रनौत स्टारर Simran का ट्रेलर रिलीज़ हो गया है.
Chef movie trailer

Simran
दोस्तों ट्रेलर देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं कि फिल्म में कंगना का किरदार क्या होगा फिल्म के ट्रेलर में ‘Simran’ बनी कंगना एक अलग तरह के अंदाज में नजर आ रही हैं. दोस्तों फिल्म में अल्हड़, बेबाक और बिंदास Simran को जुआं खेलने और चोरी करने की आदत है, और अपने इसी लत के कारण वह बार-बार मुसीबत में फंसती है. दोस्तों फिल्म में कंगना एक तलाकशुदा महिला प्रफुल पटेल का किरदार निभा रही हैं, जो लड़कों के साथ फ्लर्ट करती है. Simran को अपनी इन गन्दी आदतों पर जरा भी पछतावा नहीं है उल्टा ‘सिमरन’ गर्व से पुरुषों से कहती हैं कि उसकी आदतें खराब नहीं है बल्कि एक आर्ट है.

दोस्तों फिल्म के ट्रेलर में सिमरन का एक शायराना अंदाज़ भी दिखाई देता है जब वह स्वतंत्रता की तुलना तितलियों और सूरज की किरणों से करती हैं. ‘सिमरन’ की जिंदगी में सबकुछ अच्छा नहीं है. ट्रेलर के बीच में वह पुलिसवालों को मारती, उनसे लड़ती-झगड़ती और उनसे भागती भी नजर आती हैं. बाद में पुलिस उनका पीछा करती है. सिमरन जिस लड़के को वह पसंद करती हैं वह सिमरन का चेहरा भी नहीं देखना चाहता.

दोस्तों आपको बता दें कि साल की शुरुआत में रिलीज हुई कंगना की फिल्म ‘रंगून’ बॉक्स ऑफिस पर धराशाई हो गई थी, लेकिन जाबांज जूलिया के तौर पर कंगना के परफॉर्मेंस को खूब खूब सराहा गया था. हमेशा अपने किरदार से एक नया ट्रेंड सेट करने वाली कंगना अब एक बार फिर कंगना अपने नए अवतार के साथ हाजिर हैं. ‘सिमरन’ के बाद कंगना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के रूप में फिल्म ‘मणिकर्णिका’ में नजर आएंगी. ‘मणिकर्णिका’ को परदे पर जीवंत करने के लिए कंगना इन दिनों तलवारबाजी, घुड़सवारी सहित रानी बनने की तमाम तरह की और भी ट्रेनिंग कर रही हैं.
दोस्तों रिलीज़ से पहले ही कंगना की फिल्म पर सेंसर बोर्ड की कैंची चल चुकी है.
आपको बता दें कि Simran को टी सीरीज ने प्रड्यूस किया है और यह फिल्म 15 सितंबर को देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज़ होगी. फिल्म के ट्रेलर में कंगना के अलग-अलग Looks के साथ उन्हें बहुत बेफिक्र और बेधड़क लड़की के किरदार में दिखाने का प्रयास किया गया है.

Chef movie trailer

Chef movie trailer!! दोस्तों सैफ की फिल्म शेफ के बारे में बहुत बातें हो रही थी. अब फिल्म का ट्रेलर release हो चुका है.
Judwa 2 Movie trailer

3 मिनट के इस ट्रेलर में ऊपरी तौर पर फिल्म की पूरी कहानी समझ में आ जाती है. दोस्तों इससे पहले कुछ ऐसा ही रोल सैफ ने फिल्म तारारमपम में निभा चुके हैं. Chef movie trailer से पता चलता है कि पेशेवर शेफ रोशन कालरा (सैफ) अपने कैरियर में इतना व्यस्त है कि उनके परिवार के लिए कभी भी उनके पास कोई समय नहीं है. रोशन की पत्नी राधा (पद्मप्रिया) अपने पति से कहती है कि “अपने बेटे के साथ क्या तुम्हारा कोई रिश्ता नहीं हैं, खाली पैसे कमाने से कोई बाप नहीं बन जाता. अपने परिवार से जुड़ने की कोशिश में रोशन अपने बेटे के साथ शहर घूमता है और वो दोनों विभिन्न प्रकार के भोजन का स्वाद लेते हैं. बाद में रोशन अपने बेटे हरि के साथ अधिक समय बिताने के लिए अपनी नौकरी छोड़ देता है. और ट्रक खरीदता हैं और ट्रक के अंदर उसका रेस्टोरेंट होता हैं. दोस्तों आपको बता दें की सेफ 2014 में बनी हॉलीवुड फिल्म सेफ की रीमेक है.
फिल्म का निर्देशन राजा कृष्ण मेनन ने किया है. इस फिल्म में धीरज कार्तिक, दिनेश प्रभाकर, चंदन रॉय सान्याल, सचिन कांबले, शायन मुंशी और रसेल पीटर्स शामिल हैं.
सैफ अली खान के शेफ को शुरुआत में 14 जुलाई को सिनेमाघरों में रिलीज होनी थी. हालांकि, निर्देशक ने रिलीज की तारीख को स्थगित करने का फैसला किया क्योंकि उनकी फिल्म बॉक्स ऑफिस पर रणबीर कपूर और कैटरीना कैफ की जग्गा जासूस के साथ टकरा रही थी.सेफ अब 6 अक्टूबर को सिनेमाघरों में होगा. दोस्तों अब देखने वाली बात ये होगी की क्या जनता सैफ की शेफ के इस रीमेक को स्वीकार करती है या फिर इस फिल्म का हाल भी तारारमपम की तरह होता है.

Judwa 2 Movie trailer

Judwa 2दोस्तों Fans वरुण धवन, जैकलीन और तापसी से ज्यादा इस फिल्म के ट्रेलर में जुड़वा के कलाकार सलमान खान और करिश्मा कपूर को देखने के लिए बेताब थे लेकिन Judwa 2 में सलमान का कोई रोल नहीं है.

Aksar-2 bold song and trailer

दोस्तों अगर ट्रेलर की बात करें तो फिल्म में वरुण धवन कॉमेडी अवतार में कमाल नजर आ रहे हैं. डबल रोल में वरुण धवन प्रेम और राजा नाम के लड़के का किरदार निभा रहे हैं. जिनमें से प्रेम के रोल में वह बेहद सीधे सादे लड़के बने है. और राजा के किरदार तो दूसरी और राजा के किरदार में माचो मैन की लुक में नजर आ रहे हैं.लेकिन दोस्तों ट्रेलर से साफ़ जाहिर है कि Judwa 2, जुड़वा का मुकाबला करने में असफल रही है . सलमान का कॉमेडी और मासूमि‍यत वाला स्टाइल दर्शकों के दिलो दिमाग में इस कदर बसा है कि उसे रिवाइव करना मुश्किल काम है. ट्रेलर को देखने के बाद इतना आप कह सकतें हैं कि जुड़वा फिल्म के फैन्स को वरुण ने Judwa 2 निराश नहीं किया है. दोस्तों कॉमेडी में वरुण एक खास स्टाइल रखतें है और वह उनकी खासियत बन चुका है. दोस्तों फैन्स वरुण धवन, जैकलीन और तापसी से ज्यादा इस फिल्म के ट्रेलर में जुड़वा के कलाकार सलमान खान और करिश्मा कपूर को देखने के लिए बेताब थे लेकिन Judwa 2 में सलमान का कोई रोल नहीं है. दोस्तों अगर ट्रेलर की बात करें तो फिल्म में वरुण धवन कॉमेडी में जम रहे हैं. डबल रोल में वरुण धवन प्रेम और राजा नाम के लड़के का किरदार निभा रहे हैं. जिनमें से प्रेम के रोल में वह बेहद सीधे सादे लड़के बने है. और राजा के किरदार तो दूसरी और राजा के किरदार में Macho Man नजर आ रहे हैं. लेकिन दोस्तों ट्रेलर से साफ़ जाहिर है कि  जुड़वा का मुकाबला करने में असफल रही है. सलमान का कॉमेडी और मासूमि‍यत वाला स्टाइल दर्शकों के दिलो दिमाग में इस कदर बसा है कि उसे रिवाइव करना मुश्किल काम है. ट्रेलर को देखने के बाद इतना आप कह सकतें हैं कि जुड़वा फिल्म के फैन्स को वरुण ने निराश नहीं किया है. दोस्तों कॉमेडी में वरुण एक खास स्टाइल रखतें है और वह उनकी खासियत बन चुका है.ट्रेलर में वरुण के साथ जैकलीन फर्नांडिस और तापसी पन्नू की जोड़ी शानदार दिख रही है.

ट्रेलर में जुड़वा के गानों ऊंची है ब्लिीडिंग, चलती है क्या 9 से 12 को भी शामिल किया गया है. दोस्तों 90 के इन हिट गानों पर वरुण, जैकलीन और तापसी को थि‍रकते देखना मजेदार है.साल 1997 में रिलीज हुई फिल्म जुड़वा में सलमान खान के साथ करिश्मा कपूर और एक्ट्रेस रंभा नजर आईं थीं. ये फिल्म तेलुगू फिल्म हैलो ब्रदर का हिन्दी रिमेक थी. जुड़वा 2 दशहरे के मौके पर 29 सितंबर को रिलीज होने जा रही है.फैंस को फिल्म का बेसब्री से इंतज़ार है

Judwa 2 Cast & Credit:
GENRES:Drama, Action, Comedy
Director: David Dhawan•
Producer: Sajid Nadiadwala
Cast:Varun dhawan, Jacklin , Taapsee, Rajpal Yadav.