सुन बाबा सुन इस आंवला में है बड़े-बड़े गुण

दोस्तों हम सभी जानते हैं कि आंवला के गुण हमे कई बीमारियों से बचाता है. आंवला में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाया जाता हैं. आंवले में Carbohydrates, Magnesium, Protein, और Iron भी पाया जाता है. दोस्तों आंवला के गुण में एक गुण यह भी है कि इसमें भरपूर मात्रा में Vitamin C पाया जाता है.

इन तरीकों से कभी कम नहीं होगी आपके बालों की खूबसूरती

उबालने के बाद भी इसका Protein नष्ट नहीं होता है. आवंला के गुण का अंदाज़ा आप इस बात से ही लगा सकते हैं कि इसमें संतरे के मुकाबले 12 % ज्यादा Vitamin C होता है.

आंवला के गुण और फायदे :

आँखों से सम्बंधित बीमारी के लिए(For eyes problem):
 आंवला के गुण

आंवला का रस आँखों के लिए बहुत फायदेमंद हैं. आंवला आँखों की दृष्टी को या ज्योति को बढाता हैं. मोतियाबिंद में,कलर ब्लाइंडनेस,कम दिखाई पड़ता हो तो भी आंवले का जूस फायदेमंद हैं. आखों के दर्द में भी काफी फायदा होता हैं.

पाचनक्रिया में मदद (Helpful in digestion) :आंवला के गुण

आंवला Metabolic क्रियाशीलता को बढाता हैं. मेटाबोलिज्म क्रियाशीलता से हमारा शरीर स्वस्थ और सुखी होता हैं. आवला भोजन को पचाने में बहुत मददगार साबित होता हैं. खाने में अगर daily आवले की चटनी, मुरब्बा, अचार, रस, चूर्ण या चवनप्रास कैसे भी जिन्दगी में शामिल करना चाहिए. इससे कब्ज की शिकायत दूर होती हैं पेट हल्का रहता हैं.

हड्डियों के लिए (For bones):आंवला के गुण

आंवला के सेवन से हड्डियाँ मजबूत और ताकत मिलती हैं. आंवला के सेवन से ओस्ट्रोपोरोसिस और आर्थराइटिस एवं Joints pain में भी आराम मिलता है.

महावारी में लाभदायक(Good for periods Problem): आंवला के गुण

महिलाओं में Periods की समस्या आम होती जा रही हैं. Periods का देर से आना, ज्यादा रक्तस्त्राव होना, जल्दी जल्दी आना, कम आना, पेट में दर्द का होना, ऐसी कई समस्यां होती रहती हैं. सबके लिए आवला का सेवन फायदेमंद होता हैं. आवला में vitamin पाया जाता हैं जो महावारी में बहुत आराम दिलाता हैं. नियमित सेवन किया जाये तो Periods की समस्याओ से छुटकारा मिलता हैं.

तनाव की छुट्टी (it Keeps away stress):आंवला के गुण

आंवला के सेवन से तनाव में आराम मिलता हैं अच्छी नींद आती हैं. सिर को ठडा रखता हैं,और राहत देता है.

संक्रमण से बचाव (it Keeps away infection):आंवला के गुण

आंवला में Bacteria और fungus से लड़ने की क्षमता होती हैं और ये बाहरी बीमारियों से भी हमें बचाती हैं. आंवला शरीर को पुष्ट कर उसे रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढाती हैं, और toxin agents को हमारे शरीर से निकाल देती है. आंवला Ulcers,पेट में संक्रमण, जैसे Problems को खत्म करता हैं. आंवला का रस या पाउडर प्रतिदिन लेने से बहुत फायदा होता हैं.

वजन कम करने में(Helpful in weight loss):

आंवला के गुण
आंवला के रस का सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलती हैं. आंवला  हमारे मेटाबोलिज्म को तेज कर वजन कम करने में मदद करता है. आंवला के सेवन से भूख कम लगती हैं और काफी देर तक पेट भरा हुआ रहता हैं.

दिल कि समस्याओं को दूर करता है(it keeps away heart problem):

आंवला के गुण
आंवला हमारे ह्रदय को स्वस्थ बनाने में कारगर हैं. आंवला Heart की नालिकाओ में होने वाली रुकावट को ख़त्म करता हैं. आंवला में Anti Oxidant तत्व प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं. Anti Oxidant के रूप में एमिनो Acid और पेक्टिन पाए जाते हैं. जो की कलेस्ट्रोल को नहीं बनने देता है. आंवला को किसी भी रूप में आप ले सकते हैं.

आंवला के गुण के बारे में कितना भी कहा जाये बहुत कम हैं. 100 रोगों की एक दवा हैं, आंवला को दो तरीके से खाते हैं. ताज़ा और सुखा आवला चूर्ण,दोनों ही रूप में आंवला उतना ही फायदेमंद हैं. आंवला बसंत के मौसम में मिलता है. आंवला का उपयोग सदियों से चला आ रहा है.

इन तरीकों से कभी कम नहीं होगी आपके बालों की खूबसूरती

काले, घने, लंबे बाल सभी लड़कियों को पसंद होते हैं. ये उनकी खूबसूरती को बढ़ाते हैं. दोस्तों चलिए हम अपने बालों के नुस्खे use करते हैं. दोस्तों हम मार्केट में मिलने वाले हेयर प्रोडक्ट्स का काफी इस्तेमाल करते हैं लेकिन Stress, pollution, से हमारे बालों पर बुरा असर पड़ता है, दोस्तों बालों को ना केवल दिन में बल्कि रात में भी अच्छी देखभाल की जरूरत पड़ती है. आइए जानते हैं कुछ बालों के नुस्खें जिससे आपके बाल स्वस्थ और सुंदर दिखेंगे.

किताबे बहुत सी पढ़ीं होंगी तुमने, मगर ये किताबें क्या तुमने पढ़ीं है

अपने बालों को टाइट न बांधे (Don’t tie your hair tight):बालों के नुस्खें

दोस्तों कुछ लोगों की आदत होती हैबालों को ज्यादा टाइट बांधने की इससे आपके सिर में दर्द हो सकता हैं, इसलिए सोने से पहले आप ढ़ीली चोटी बांधे. खुले बाल सोते समय आपस में उलझते हैं जिससे ये टूट सकतें हैं .

सही तकिये का चुनाव(opt right pillow):बालों के नुस्खें

दोस्तों सोते वक्त हम सभी तकिये का इस्तेमाल करते हैं. तकिया आपके सिर के बालों से लगा होता हैं. ज्यादातर लोग कॉटन के ही तकिया कवर इस्तेमाल करते हैं. कॉटन के कवर थोड़ा कठोर होते हैं और आपके बालों को खराब कर सकते हैं, इसलिए रेशम के कपड़े से बने तकिये के कवर का इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि यह नरम होते हैं.

अपने बालों को सूखा रखें (Keep your hair dry):बालों के नुस्खें

रात को बिस्तर पर जानें से पहले आप अपने बालों को सूखा लें. इसके लिए आप हेयर ड्रायर का उपयोग कर सकती हैं. ऐसा करने से आपके बाल टूटेंगे नहीं और बालों से खराब गंध भी नहीं आएगी.

रात को कंघी करें(Comb your hair):बालों के नुस्खें

दोस्तों सोने से पहले आप अपने बालों को कंघी जरूर करें इससे आपके बाल सुलझे रहेंगे और टूटने से बचेंगे.

हेयर बैंड का इस्तेमाल न करें (Don’t use hair band before  bed):बालों के नुस्खें

बालों में लगाने और उन्हें Style देने के लिए मार्केट में कई प्रोडक्ट है. अधिकतर महिलाएं सोने से पहले अपने बालों को हेयर बैंड से टाइट बंधा ही छोड़ देती हैं. इससे बाल ज्यादा टूटने लगते हैं.

इसके अलावा भी कई ऐसे कारण है जो बालों को कमजोर बनाते हैं, हम बालों के नुस्खे से ऐसे सभी कारणों को जड़ से ख़त्म करने की कोशिश करेंगे.

दोमुंहे बालों(Split ends) से बचने के लिए ये घरेलू उपाय अपनाए जा सकते हैं:

अंडे का मास्क रहेगा फायदेमंद(Egg hair mask):
अंडा प्रोटीन का बेहतरीन Option है.अंडे के इस्तेमाल से जहां बालों की जड़ें मजबूत होती हैं, वहीं बालों की Conditioning भी करता है.अंडे को ऑलिव ऑयल में मिलाकर लगाना बहुत फायदेमंद रहेगा.

केले का इस्तेमाल(Banana mask):बालों के नुस्खें

केला भी बालों को Natural तरीके से पोषि‍त करने का काम करता है. इसमें कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो बालों के लिए जरूरी होते हैं. केले के नियमित इस्तेमाल से न तो बाल बीच से टूटेंगे और न ही बेजान होंगे.

 बीयर भी रहेगा कारगर(use of beer):बालों के नुस्खें

बीयर दोमुंहे बालों को कंट्रोल करने का काम करता है. बालों के नुस्खें से आप चमकदार और स्वस्थ बाल पा सकेंगी. इसमें मौजूद प्रोटीन और शुगर हेयर-फॉलिकल्स को मजबूत करने में मदद करते हैं. ये एक बहुत अच्छा Conditioner भी है जिससे बालों में चमक आती है.

दोस्तों ये कुछ आसान बालों के नुस्खें हैं जिनके इस्तेमाल से आपके बाल चमक और खिल उठेंगे. किसी भी चीज को खूबसूरत बनाने के लिए Hard work लगता ही है, लेकिन Result देखकर भी आपका मन खुश हो जाएगा तो दोस्तों कस लीजिए कमर हो जाइए तैयार. और कर दीजिये लोगो को हैरान अपने बालो की खूबसूरती से.

कहीं आप भी depression के शिकार तो नहीं!

depression

depression एक आम बीमारी है लेकिन अगर समय रहते जरुरी कदम नहीं उठाएं गए तो यह एक गंभीर समस्या का रूप ले सकता है.

अपनी सेहत के साथ ना करें खिलवाड़, रखें इन बातों का ध्यान

आप को जानकार हैरानी होगी World Health Organization (WHO) की एक रिपोर्ट के अनुसार पूरी दुनिया में तकरीबन 30 करोड़ से ज्यादा लोग depression से ग्रसित हैं. दोस्तों मानसिक बीमारी कोई फैलने वाली बीमारी नहीं है. फिर भी समाज में मानसिक रोगियों को एक विशेष धारणा के तहत देखा जाता है. मानसिक बीमारी को लेकर लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए ही WHO ने डिप्रेशन लेटस टॉक(Depression Let’s Talk) मुहीम चलाया ताकि लोग depression पर खुल कर बोल सकें और इसे समझ सकें. दोस्तों इस भागदौड़ और तनाव भरी जिंदगी में कब अवसाद हमारे दरवाज़े पर दस्तक दे देता है हमे पता ही नहीं चलता. आपको बता दें कि अवसाद कई बार थोड़े समय के लिए ही रहता है. पर इसका ढंग से उपचार ना होने पर यही अवसाद भयानक रूप ले लेता है.
दोस्तों जब कोई व्यक्ति अवसाद से पीड़ित होता है, तो यह विकार उस व्यक्ति के रोजमर्रा के जीवन और उसके सामान्य कामकाज में बाधा डालता है. इतना ही नहीं उस व्यक्ति के वजह से उसके घर में और आस-पास एक नकारात्मक वातावरण तैयार हो जाता है.
दोस्तों अवसाद का कोई एक कारण नहीं होता है इसके शुरुआत के कई कारण हो सकते है. हम यहां कुछ कारणों पर चर्चा करेंगे.

Hereidity:
इस मुद्दे पर हुए शोध इस बात का इशारा करते हैं कि आनुवंशिकता अन्य घटकों के साथ जुडकर अवसाद के खतरे को और अधिक बढ़ा देती है.
किसी इंसान के अवसाद में जाने के पीछे कई चीजों कि भूमिका रहती है. जिंदगी में कई ऐसे पड़ाव आते हैं जैसे मानसिक आघात, बुरे अनुभव, सदमा, एक तनावयुक्त संबंध आदि अवसाद का कारण बनते हैं.

Medical reason:
depression

कुछ मेडिकल कारणों से भी लोगों को अवसाद होता है, जिनमें एक है थायरॉयड की कम सक्रियता होना. इतना ही नहीं दोस्तों कुछ दवाओं के साइड इफेक्ट्स से भी depression हो सकता है. इनमें ब्लड प्रेशर कम करने के लिए इस्तेमाल होने वाली कुछ दवाएं हैं.

अवसाद के लक्षण:
Mood, उदासी अवसाद की श्रेणी में नहीं आती, लेकिन किसी भी काम में मन न लगना, अरुचि किसी बात से खुशी न होना,
यहां तक दुख का भी अहसास न होना अवसाद के लक्षण होते हैं, नकारात्मक सोच होना.

बचने के उपाय:
Doctors की सलाह और चिकित्सा के अलावा नियमित रूप से योग, व्यायाम या Meditation करते रहने से आप तनाव से बचे रहेंगे.
अच्छी नींद भी depression के खतरे को काफी हद तक काम कर देता है.
अपर्याप्त नींद तनाव के साथ-साथ ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर बढाती है एवं कई रोगों को भी जन्म देती है.
पानी पीने से तनाव बहुत कम होता है, अतः जब भी आप तनाव में हों, पानी पीएं. पानी पीते रहने से तनाव आपसे दूर हीं रहता है.
dipression से पीड़ित व्यक्ति के लिए किसी ऐसे इंसान से बात करना उपचार व सुधार की स्थिति में पहला कदम होता है जिस पर वह भरोसा करता हो.
इसलिए दोस्तों अवसाद से पीड़ित व्यक्ति को आपके साथ की प्यार की आवश्यकता है और वो दवाओं से ज्यादा जल्दी आपके प्यार और लगाव से ठीक हो सकता है.
जितना हो सके पीड़ित व्यक्ति को busy रखें ताकि उनका ध्यान किसी नकारात्मक चीज की तरफ जाए ही ना.