दांतों को सफ़ेद कैसे करें

दांतों को सफ़ेद कैसे करें!!!
दोस्तों अगर हमारे दांत सफ़ेद और चमकदार हो तो हमारी हसी को चार चाँद लग जाता है और हमारे चेहरे की सुंदरता अपने आप निखर जाती है.
आपको ज्यादा कॉफ़ी और सॉफ्ट ड्रिंक पीने से बचना चाहिए ऐसा करने से दांतों में दाग धब्बे पड़ जाता है. दांत के पीले होने कई कारण होते हैं अधिक दवाइयों के सेवन से भी दांत पीला हो जाता है.

दांतों को सफ़ेद कैसे करें

 

पसीने की बदबू दूर करने के उपाय

दांतों के पीलेपन के कारण हमें कई बार शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है.
जहां सभी लोग ठहाके मार कर हस रहे होते हैं, वहां हमें फीकी मुस्कान से ही काम चलाना पड़ता है.
दांत भी हमारे शरीर का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है इसलिए इनकी देखभाल करना हमारी जिम्मेदारी है. बाज़ार में कई ऐसे Product मिलते हैं दांतों को सफ़ेद बना सकते है.
लेकिन हम यहां आपको कुछ आसान घरेलू नुस्खों के बारे में बताएंगे, जो आपके दांतों को कुदरती रंगत लौटा देंगे.

नमक सोडा और सुहागा का मिश्रण (Mixture of salt, soda and borax):

दांतों को सफ़ेद कैसे करें, इस सवाल का पहला जवाब है नमक, सोडा और सुहागा का मिश्रण.
नमक के साथ खाने का सोडा और सुहागा अच्छी तरह मिलाकर एक डब्बे में रख लें.
रोज सुबह ब्रश करते वक्त इससे दांत साफ़ कर लें इससे दांतों पर लम्बे समय से जमा पीलापन और कालापन दूर हो जाएगा.

निम्बू का छिलका(Nimbu ka chilka):
अबकी बार निम्बू को प्रयोग करके उसके छिलकों को कूड़ेदान में ना फेंके.
दांतों को सफ़ेद कैसे करें में अब बारी है दूसरे नुस्खें की, इन छिलकों को कड़ी धूप में सूखा लें और मिक्सर में इसे बारीक पीस लें.
इसमें नमक मिलाकर रख लें. ब्रश करने के बाद इससे अपने दांतों को साफ़ करें ऐसा करने से आपके दांत सफ़ेद और चमकदार बनेंगे.

सरसो का तेल और नमक(Mixture of oil & Salt):
दांतों को सफ़ेद कैसे करें सवाल का तीसरा जवाब है सरसो के तेल में एक चम्मच नमक मिलाकर रख लें इस मिश्रण को दांतों पर मलने से दांत सफ़ेद होते हैं.

लीची का पेस्ट (Lichi ka paste):
दोस्तों लीची अगर आपको पसंद है तो लीची को पिस कर इसका पेस्ट बना ले. इस पेस्ट से दांतों की सफाई करने से दांत चमकने लगते हैं.

तुलसी(Tulsi):
तुलसी में कुदरती रूप से दांतों के पीलपन को दूर करने की क्षमता होती है.इसके अलावा मुँह के अन्य रोगों से भी हमारी रक्षा करती है. तुलसी के पत्तों को धूप में बिलकुल सुखा लें और मिक्सर में पीस कर इसका पाउडर बना लें. और इसको एक डब्बे में रख लें जब भी ब्रश करें इसके पाउडर को टूथपेस्ट में मिला लें और दांत साफ़ करें .

संतरे का छिलका (Santre ka Chilka):
संतरे के छिलके को फेंकने के बजाय उसके छिलके को सूखा लें और साथ ही तुलसी के पत्तों को सुखाकर पाउडर तैयार कर लें.
ब्रश करने के बाद संतरे और तुलसी के पाउडर के इस मिश्रण से दांतों पर मसाज करें.
संतरे में विटामिन सी और कैल्शियम के अधिकता के कारण दांत मोती जैसे हो जाते हैं.

नीम(Neem):
नीम में असीम औषधिय गुण होने के कारण इस बहुत ही उपयोगी माना गया है. नीम में दांतों को सफेद बनाने व बैक्टीरिया को जड़ से ख़त्म करने के सारा गुण पाया जाता है. यह नेचुरल एंटीबैक्टिीरियल और एंटीसेप्टिक है.
कुछ भी मीठा खाने के बाद या किसी भी चीज का सेवन करने के बाद पानी से कुल्ला जरूर करे.

पसीने की बदबू दूर करने के उपाय

 

पसीने की बदबू!!! शरीर से आने वाली पसीने की बदबू कई बार हम लोगों के लिए शर्मिंदगी का कारण बन जाती है. शायद कुछ लोग झप्पी लेने-देने में इसी लिए हिचकिचाते हैं.

वजन कम करने के Top tips

पसीने की बदबू

पसीने की बदबू और बुरी दुर्गन्ध हमें नयें दोस्त बनाने और किसी रिश्तें को मजबूत बनाने में बाधा पहुंचती है. आम आदमी की समझ से हमे यह लगता है कि शरीर की दुर्गन्ध ज्यादा पसीना आने की वजह से आती है, लेकिन इसका कारण पसीना नहीं बल्कि बैक्टीरिया है. ये बक्टेरिया हमारे शरीर से निकलने वाले पसीने में मिल जाते हैं और बदबू पैदा करते हैं. बैक्टीरिया गर्म और नम वातावरण में पनपते हैं. ऐसे में सारा दिन अपने शरीर को ताजा रखना चुनौती से कम नहीं. इसलिए दोस्तों हम आपके लिए लेकर आएं हैं बेहद कारगर उपाय जिससे आपको इस समस्या से छुटकारा मिलेगा.

टमाटर (tomatoes):
शरीर की दुर्गन्ध से छुटकारा पाने के लिए टमाटर बहुत कारगर साबित होता है.  नहाते वक्त तकरीबन 5 से 6 टमाटर का जूस नहाने वाले पानी में डालकर उससे स्नान कर लें. टमाटर के अंदर मौजूद एंटीसेप्टिक गुण आपके शरीर से आने वाली बदबू को ख़त्म कर देगा. ऐसा करने से त्वचा की रोम छिद्र भी छोटी हो जाती हैं. जिसकी वजह से शरीर से कम पसीना बाहर निकलता है.

बेकिंग सोडा(Baking Soda):
बेकिंग सोडा में कुदरती रूप से (deodorant) का गुण होता है. आपके जिन जगहों पर पसीना ज्यादा आता है वहां बेकिंग सोडा लगाना फायदेमंद साबित होगा. ये बैक्टीरिया को मारता है और उन्हें पनपने से रोकता है जिससे शरीर की बदबू कम होती है.

शलजम का जूस:
बात अगर प्राकृतिक (डिओडोरेंट)की चल रही है तो आप शलजम का जूस निकालकर पसीने वाली जगह पर लगा सकते हैं. इसको लगाने के बाद कई घंटो तक आपको पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा मिलेगा.
इसके अलावा बदबू को ख़त्म करने के लिए शलजम का जूस पी भी सकते हैं. शलजम में विटामिन C पाया जाता हैं जो पसीने के दुर्गन्ध को ख़त्म करने में सहायक होता है.

सिरका(vinegar):
सिरका भी शरीर के दुर्गन्ध दूर करने में बेहद प्रभावशाली माना जाता है. स्नान करने के बाद आपके पास मौजूद कोई भी सिरका चाहे सेब का या फिर अन्य हो दो स्पून लें और पानी में मिलाकर जिन जगहों पर पसीना ज्यादा आता हैं वहां लगा लें. ऐसा करने से शरीर से दुर्गन्ध नहीं आती यह बहुत ही कारगर उपाय है.

डीओडोरेंट(deodorant):
डीओडोरेंट (deodorant) की सबसे बड़ी खूबी यह है कि यह बैक्टीरिया से पैदा होने वाली वाले बदबू को रोकता है. जरूरी नहीं की इसको लगाने से पसीना रुक जाये. यह थोड़े या ज्यादे समय के लिए बदबू को दूर रखता है यह इसकी गुणवत्ता पर निर्भर करता है.

 साफ-सफाई(tidy & clean):
पसीने की बदबू को दूर करने में सफाई का भी ध्यान रखें. सफाई का ध्यान रखना बहुत जरुरी है जब भी पसीना आये पंखें के सामने बैठ उसे सूखा लें और दिन में एक बार स्नान जरूर करें जब पसीना ज्यादा आ रहा हो तो दोबारा स्नान करने में कोई बुराई नहीं है.

खान-पान(Eating habits):
खाने में की गयी लापरवाही हमारे शरीर में कई चीजों को गड़बड़ कर देती है कुछ भोजन पसीने की बदबू को बढ़ा देते है.
भोजन में प्याज, लहसून, रेड मीट, मसालेदार खाना, शराब और कैफीन शामिल है. ऐसे भोजन  और पेय गर्मी पैदा करते है. इन चीजों के सेवन से शरीर से पसीना निकलता है .

ज्यादा पानी पीये(Drink water):
पानी की कमी के कारण शरीर का तापमान गड़बड़ हो जाता है हमे दिन में करीब 3 लीटर पानी  पीना चाहिए,ज्यादा पानी पीने से स्किन हाइड्रेटेड रहती है और टोक्सिंस शरीर के बाहर निकलते हैं जिससे शरीर से दुर्गन्ध नहीं आती.

निम्बू का रस(Lemon Juice):
निम्बू के अम्लीय गुण के कारण बैक्टीरिया ख़त्म हो जाते हैं. स्नान करते वक्त पानी में  गुलाब जल या निम्बू का रस मिलाने से दुर्गन्ध नहीं आती .

कॉटन के कपड़े(Cotton clothes):
पसीना सोखने वाले कपड़ों को तरजीह देने से हमारे शरीर को हवा मिलती रहती है. पसीने के बदबू से बचने के लिए कॉटन के वस्त्र पहनने चाहिए.

इन तरीकों से पाएं गोरी त्वचा

हम सबकी चाहत होती है कि हमारा चेहरा साफ़ दिखे हम गोरे दिखें लेकिन बहुत ही कम लोगों को गोरी त्वचा कुदरती रूप से मिली होती है. बाकियों के लिए भी गोरी त्वचा पाना मुश्किल नहीं है कुछ आसान उपाय हैं जिन्हें अपनाकर आपकी स्किन चमकदार बन जाएगी.
कुछ दाग धब्बे और टैनिंग इतनी ज्यादा होती है कि तमाम Beauty Products का प्रयोग करने के बाद भी चेहरे कि रंगत नहीं निखरती. पर इन चीजों के प्रयोग से आपकी Skin साफ़ तौर पर निखर जाएगी और आप बिलकुल Glowing और गोरी नज़र आएंगी.

गुणों की खान है टमाटर

चावल का आटा (Rice Scrub):
गोरी त्वचा

Friends, गोरी और ग्लोइंग त्वचा पाने के लिए चावल का इस्तेमाल बहुत लम्बे समय से चला आ रहा है.
चावल से बना स्क्रब त्वचा के लिये बहुत ही सही रहता है. चावल को दरदरा पीस कर उसे शहद में मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें.
पेस्ट को अपने चेहरे और गर्दन कि त्वचा पर अच्छी तरह से लगाकर थोड़ी देर छोड़ दें जब पेस्ट सूख जाए, तो पानी से अपने चेहरे और गर्दन को अच्छी तरफ साफ कर लें.
यह बढ़िया मॉइस्चराइज़र है और यह blood circulation को बढ़ाता है और स्किन को Soft हो जाती है.

 हल्दी (Turmeric):
गोरी त्वचा

हल्दी में कई ऐसे गुण मौजूद होते है जो स्किन टोन निखारने में मदद करता है. इसका एंटीसेप्टिक गुण त्वचा से जुड़े आम बीमारियों जैसे जला कटा ठीक करने में मदद करता है.
गोरी त्वचा पाने के लिए हल्दी में ताजी मलाई, दूध और बेसन मिला लें और इसका गधा मिश्रण तैयार कर लें इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और पानी से अपना मुँह साफ़ कर लें.

चंदन और गुलाबजल (Sandal & Gulabjal): 

गोरी त्वचा

चंदन और गुलाबजल में औषधिय गुण होते हैं. जो गोरी रंगत के देने के अलावा  दाग-धब्बे को चेहरे से दूर करने में सहायक होता है.
इसमें औषधिय गुण होने के कारण ये एलर्जी और पिंपल भी दूर करने में सहायक होता है.
चंदन पाउडर और गुलाबजल को समान मात्रा में लेकर एक बाउल में इसका पेस्ट घोल लें.
इस पेस्ट को चेहरे पर ठीक से लगाएं. जब यह सूखने लगे तो इसे सूती के कपड़े को गिला करके चेहरे को साफ़ कर लें.
ऐसा नियमित रूप से करने पर आपके चेहरे कि रंगत खिलखिला उठेगी.

केले और खीरे का पैक(Banana & Cucumber Pack) :

गोरी त्वचा
खीरा और केला ये दोनों ही त्वचा के लिए फायदेमंद होता है. इनकी गुणकारी प्रवत्ति Skin को चमकदार बनाने में मुख्य भूमिका निभाती है.
आप एक छोटा खीरा और एक केला लेकर उन्हें मिला लीजिये इसमें शहद और  नींबू का रस मिलाएं.
और साथ ही अॉलिव oil डालें और अच्छे से मिलाएं इसे चेहरे पर लगाएं और सूखने के बाद गरम पानी से साफ कर लें.

 हर्बल टिप्स (Herbal Tips):

किसी भी चीज का रिजल्ट एक दिन में नहीं मिलता इसलिए चेहरे की रंगत निखारने के लिए डेली कुछ चीजों का ध्यान रखना जरुरी है.

  • गोरी त्वचा के लिए, रोज चंदन पाउडर, गुलाब जल व हल्दी को मिलाकर इसका पेस्ट चेहरे पर लगाएं.
  • एलोवेरा के पत्तों के नीचे मिलने वाले उसके गूदे को लगाने से दाग-धब्बे ख़त्म हो जाता है.
  • शहद के मॉस्चर वाले गुण के कारण इसको नियमित रूप से त्वचा पर use करने से skin के दाग-धब्बा कम हो जाता है, और स्किन का रूखापन ख़त्म हो जाता है.

 

Child Care Tips

Top 6 Child Care Tips!!!
Top 6 Child Care Tips

Top 6 Child Care Tips!!! मम्मी-पापा बनना इस दुनिया के सबसे ख़ुसूरत एहसासों में से एक है अपने बच्चे की देखभाल करना आपके जीवन का सबसे ख़ास और पुरस्कृत अनुभव हो सकता है. शुरुआत में अचानक किसी की पूरी जिम्मेदारी अपने कन्धों पर लेना थोड़ी दिक्कत पैदा कर सकता है. लेकिन धीरे धीरे आप अपने जिम्मेदारियों के आदी हो जाएंगे  आपके बच्चे को आराम, जीविका साथ ही में प्यार और स्नेह की एक स्वस्थ खुराक की जरूरत है.

हिंदी भाषा में कैरियर संभावनाएं

Top 6 Child Care Tips!!! जब आप मा बनती हैं तो मन में कई तरह की दुविधाएं होती हैं बच्चे की देखभाल कैसे करें, उसे गोद में कैसे लें उसे कैसे दूध कैसे पिलाएं कैसे नहलाएं ये तमाम सवाल आपके मन में घूमते रहते हैं तो इन Top 6 Child Care Tips का ध्यान रखिये और बिना किसी टेंशन पालिये अपने शिशु को.

जन्म के बाद माँ का दूध ही पिलाएं:Top 6 Child Care Tips

मां का दूध बच्चे के लिए अमृत के बराबर होता है. माँ का दूध बच्चे को पोषण व बीमारियों से संरक्षण प्रदान करता है. बच्चों के लिए पहले 6 महीने तक मां का दूध ही काफी होता है. बहुत सी माताएं 6 months बाद भी स्तनपान(feed) कराती हैं और अन्य आहार देना भी शुरू कर देती हैं. बच्चे के जन्म के तुरंत बाद मां का पहला पीला और गाढ़ा दूध जरूर पिलाएं. इस दूध को कोलस्ट्राम(colostrum) कहते हैं जोकि प्रसव(डिलीवरी) के बाद पहले हफ्ते में निकलता है. कोलस्ट्राम बाद के दूध से अधिक पौष्टिक होता है, क्योंकि इसमें प्रोटीन ज्यादा होता है और संक्रमण से बचाव के गुण भी अधिक होते हैं, जो जन्म के तुरंत बाद की खतरनाक बीमारियों से बच्चे को बचाते हैं. इसमें अधिक मात्रा में विटामिन A पाया जाता है. अपने बच्चे को यह कोलस्ट्राम अवश्य पिलाएं, क्योंकि इसमें बहुत से पोषक तत्व होते हैं.

टीकाकरण(Vaccination):Top 6 Child Care Tips

बच्चों में टीकाकरण वायरस और संक्रमण से फैलने वाली बीमारियों से बचाने के लिए कराए जाते हैं. आमतौर पर लगाए जाने वाले टीकों के अलावा भी कुछ टीकें हैं जो शिशु के लिए जरुरी हैं. नवजात शिशु और बच्चों के स्वास्थ्य को बनाएं रखने की प्रक्रिया का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं.
vaccination शिशु को कई तरह की बीमारियों से बचाने के लिए किया जाता है. टीके में पाए जाने वाले एंटिजेन्स प्रतिरक्षा प्रणाली(immunity system) को एंटीबॉडीज(Antibodies) बनाने में मदद करते हैं. एंटीबॉडीज के कारण हमारा शरीर वायरस के संपर्क में आने के बाद बीमारियों से बच जाता है. जन्म के बाद डॉक्टर शिशु को कई तरह के वैक्सीन देने की सलाह देते हैं जैसे न्यूमोकोकल कोन्जुगेट वैक्सीन(पीसीवी) इनएक्टिव पोलियो वायरस वैक्सीन(आईपीवी). आमतौर पर दिए जाने टीकों के अलावा कुछ ऐसे वैक्सीन है जिनके बारे में माता-पिता को जानकारी नहीं होती लेकिन ये जरुरी होते हैं.

6 माह तक सिर्फ माँ का दूध:
Top 6 Child Care Tips

बच्चे के जन्म से लेकर पहले 6 month बहुत महत्वपूर्ण होते हैं. इस दौरान बच्चे को ज्यादा देख-रेख की जरुरत होती है. कई बार कुछ महिलाएं जो पहली बार माँ बनती हैं नहीं जानती कि बच्चे को 6 month से पहले पानी नहीं पिलाना चाहिए माँ के दूध में 80 प्रतिशत(80%) पानी होता है जो बच्चे में पानी की हर आवश्यकता को पूरा कर सकता है.

शिशु की त्वचा का कैसे रखें ख्याल:Top 6 Child Care Tips

Top 6 Child Care Tips में अब बात करते हैं शिशु की त्वचा के बारे में. बच्चे जितने नाजुक होते हैं, उनकी त्वचा(skin) भी उतनी ही कोमल होती है. इसलिए sensitive skin बहुत जल्द एलर्जी का शिकार हो जाती है. उनकी मालिश ऐसे तेल से करें, जो उनकी त्वचा के लिए ही बनाया गया हो. आपका डॉक्टर जिस तेल की सलाह दे, उसी तेल से मालिश करें. बच्चों की त्वचा बिल्कुल अलग होती है. बच्चों की त्वचा की सबसे निचली परत को पूरी तरह विकसित होने में 10 साल का समय लगता है. वहीं, उनके तेल स्रावित करने वाली ग्रंथियां(Glands) भी इस उम्र में क्रैडल पूरी तरह से सक्रिय नहीं होती हैं.

नवजात बच्चों में तो क्रैडल कैप होता ही है. इसके अंतर्गत सिर की त्वचा भी सूखी सी नजर आती है, जो रूसी जैसी दिखती है लेकिन होती नहीं है. जब तेल निकालने वाली सेबेसियस ग्लैंड्स बहुत अधिक मात्रा में तेल का स्राव करती हैं तो यह पहले तैलीय पैच बन जाता है और बाद में सूख कर पपड़ी की तरह उड़ने लगता है. इसे ठीक करने का सबसे सुरक्षित तरीका है अपने बच्चे के बालों को हल्के शैम्पू से धोना चाहिए. शैम्पू करने से पहले मुलायम बेबी ब्रश को उसके सिर पर फेरिए ताकि वे फ्लेक्स निकल जाएं. नहाने के तुरंत बाद अपनी उंगलियों से उसके सिर की मालिश करें या चाहें तो मुलायम सूती कपड़े से भी ऐसा कर सकती हैं.

बच्चे की आँख में काजल ना लगाएं:
ऐसा माना जाता है कि काजल लगाने से आँखे बड़ी होती है और सुन्दर दिखती हैं. लेकिन नवजात शिशु कि त्वचा बहुत नाजुक होती है और आँख तो बहुत ही नाजुक होती है. ऐसे में छोटे बच्चों को काजल नहीं लगाना चाहिए

बच्चे के रोने से ना हो परेशान:
Top 6 Child Care Tips

नवजात बच्चे के रोने पर चिंता करने जैसी कोई बात नहीं होती. छोटे बच्चे भूख लगने पर या बिस्तर गीला करने पर रोते हैं. अगर शिशु ज्यादा रोये तब आपको डॉक्टर से परामर्श लेने की आवश्यकता है.
बच्चों को पालना इस दुनिया का सबसे मुश्किल काम है. अगर आपने उनकी देखभाल सही तरीके से नहीं की तो ये उनको और आपको दोनों को परेशानी में डाल सकता है. आप किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लेकर ही अपने बच्चे के लिए सभी चीजों का प्रबंध करे. उसकी स्किन से लेकर आँख तक, खाने से लेकर पीने तक थोड़ी सी लापरवाही मुश्किल खड़ी कर सकती है. इसलिए Top 6 Child Care Tips को ध्यान में रखते हुए अपने शिशु की देखभाल करें.

हिंदी भाषा में कैरियर संभावनाएं

हिंदी भाषा में कैरियर!!! दोस्तों हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा है, इसके बावजूद इस विविधतापूर्ण देश में अनेक भाषाएं और बोलियां प्रचलित हैं, आपको बता दें कि हिंदी बोलने वालों की संख्या में लगातार बढ़ रही है.
World Alzheimer Day

सूचना-प्रौद्योगिकी, कम्प्यूटरीकरण के इस युग में और मीडिया के बढ़ते प्रभावों के कारण ही आज फंक्शनल हिंदी के क्षेत्र में रोजगार के नए-नए अवसर खुल रहे हैं. इस क्षेत्र में आज कुशल Professionals की डिमांड है.

फंक्शनल हिंदी :
फंक्शनल हिंदी का अर्थ है- language for specific purpose। फंक्शनल हिंदी, हिंदी का वह रूप है, जिसे किसी प्रयोजन विशेष या उद्देश्य से जोड़ कर देखा जाता है. यानी दैनिक जीवन या रोजमर्रा की लाइफ से जुड़े किसी भी क्षेत्र में हिंदी के जिस रूप का इस्तेमाल हम करते हैं, वही फंक्शनल हिंदी है.

हिंदी भाषा में कैरियर कितना सही :
हिंदी को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर Promote करने के लिए कई तरह के प्रयास, कार्यक्रम और हिंदी दिवस सरीखे आयोजन होते रहते हैं. ऐसे में हिंदी अपनी उपयोगिता के कारण खुद-ब-खुद प्रॅमोट हो रही है. हम लोग हिंदी को पूरी तरह स्थापित कर पाने में असमर्थ हो रहे हैं, वहीं दूसरी ओर आज फंक्शनल हिंदी में छुपी अपार संभावनाओं के चलते केवल देश में, बल्कि विदेशों में भी छात्र इस भाषा को अपना रहे हैं. फंक्शनल हिंदी फ्रेंच, जर्मन, जैपनीज भाषा की तरह ही फॉरेन लैंग्वेज के रूप में भी धीरे-धीरे लोकप्रिय हो रही है.

रोजगार की संभावनाएं:
हिंदी भाषा में कैरियर
Friends अगर करियर की बात करें तो आज जो क्षेत्र ज्यादा लोकप्रिय हैं, वे हैं-Media, Advertising, Hindi translator आदि.
इसके अलावा, केंद्र सरकार और राज्य सरकार अलग-अलग डिपार्टमेंट्स में हिंदी ट्रांसलेटर्स, असिस्टेंट्स, मैनेजर (ऑफिशियल लैंग्वेज) आदि के Vacancy भी समय-समय पर निकलते रहते हैं. यानी आप जिस भी क्षेत्र को बेहतर मानते है चाहे सरकारी क्षेत्र को सुरक्षित मानते हुए वहां जाना चाहें या प्राइवेट को बेहतर मानें, तो ऐसी स्थिति में फंक्शनल हिंदी आपको दोनों तरह के क्षेत्रों में जाने का अवसर प्रदान करती है.

हिंदी की पढ़ाई:
आज फंक्शनल हिंदी की पढ़ाई देश के सभी प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों में हो रही है. जैसे, जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय, लखनऊ, कानपुर आदि. इसके अलावा, केंद्रीय हिंदी संस्थान, इग्नू आदि में भी Functional हिंदी के Courses हैं.
आप  Full term और short term basis, दोनों स्तर की पढ़ाई कर सकते हैं. कुछ संस्थान मे हिंदी भाषा को वैकल्पिक विषय के रूप में तो कुछ ऐसे संस्थान भी हैं, जहां इसे आप मुख्य विषय के रूप में पढ़ सकते हैं, दिल्ली विश्वविद्यालय में इस विषय में B.A स्तर की पढ़ाई होती है, तो M.A में इसे Optional Subject के रूप में पढ़ाया जाता है. इसी तरह, जेएनयू और केंद्रीय हिंदी संस्थान से आप इसमें एडवांस्ड-लेवल यानी एमफिल या पीएचडी स्तर की पढ़ाई भी कर सकते हैं. वहीं इग्नू, जामिया मिलिया, भारतीय विद्या भवन, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन आदि  हिंदी भाषा में डिप्लोमा या सर्टिफिकेट कोर्स कराते हैं.
हिंदी भाषा में कैरियर
हिंदी की बढ़ती लोकप्रियता और अंतराष्ट्रीय महत्त्व के साथ हिंदी भाषा के क्षेत्र में रोज़गार के नए अवसरों में वृद्धि हुई है. केंद्र सरकार, राज्य सरकारों (हिंदी भाषी राज्यों में) के विभिन्न विभागों में, हिंदी भाषा में काम करना अनिवार्य है. इसलिए केंद्र/राज्य सरकारों के विभिन्न विभागों और इकाइयों में हिंदी अधिकारी, हिंदी अनुवादक, हिंदी सहायक, प्रबंधक (राजभाषा) जैसे विभिन्न पदों की भरमार है. निजी टीवी और रेडियो चैनलों की शुरुआत और  पत्रिकाओं, समाचार-पत्रों के हिंदी रूपान्तर आने से रोजगार के अवसरों वृद्धि हुई है. हिंदी मीडिया के क्षेत्र में संपादकों, संवाददाताओं, रिपोर्टरों, न्यूजरीडर्स, उप-संपादकों, प्रूफ-रीडरों, रेडियो जॉकी, एंकर्स आदि की बहुत आवश्यकता है.
हिंदी भाषा में कैरियरअंतर्राष्ट्रीय लेखकों के कार्यों का हिंदी में अनुवाद तथा हिंदी लेखकों की कृतियों का अंग्रेजी और अन्य विदेशी भाषाओं में अनुवाद कार्य करना भी होता है. फिल्मों की स्क्रिप्ट को हिंदी-अंग्रेजी में अनुवाद करने का भी कार्य होता है.

यहां हैं संभावनाएं:
 गवर्नमेंट सेक्टर में
मीडिया-प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक
क्रिएटिव राइटिंग/एडवरटाइजिंग
एम्बेसीज साहित्य
एकेडमिक क्षेत्र में

प्रमुख संस्थान:
दिल्ली विश्वविद्यालय
लखनऊ विश्वविद्यालय
कानपुर विश्वविद्यालय
इंदौर विश्वविद्यालय
भारतीय विद्या भवन, नई दिल्ली
इंडिया गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू), नई दिल्ली
इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, जेएनयू कैंपस, नई दिल्ली
जामिया मिलिया इस्लामिया, जामिया नगर, नई दिल्ली

वैश्विक भाषा के रूप में हिंदी:
हिंदी भाषा में कैरियर! हिंदी विश्व में चीनी भाषा के बाद सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है. भारत और विदेश में करीब 50 करोड़ लोग हिंदी बोलते हैं तथा इस भाषा को समझने वाले लोगों की कुल संख्या करीब 90 करोड़ है. विदेशियों में भी भारत की संस्कृति को समझने की रुचि बढ़ी है. यही वजह है कि कई देशों ने अपने यहां भारतीय भाषाओं को प्रोत्साहन देने के लिए शिक्षण केंद्रों की स्थापना की है. भारतीय धर्म, इतिहास और संस्कृति पर विभिन्न पाठ्यक्रम संचालित करने के अलावा इन केंद्रों में हिंदी, उर्दू और संस्कृत जैसी कई भारतीय भाषाओं में भी पाठ्यक्रम  जाते हैं. हिंदी भाषा में कैरियर बनाना अब मुश्किल नहीं बस आपको अपने स्किल को सुधारने की जरूरत है .

 

रूमी एक निराले सूफी संत और कवि

रूमी!!! दोस्तों कुछ विचार हमारे सामने आते रहतें हैं और हम उन्हें पढ़ कर सोचते हैं इन्हें लिखने वाला कितना महान होगा तो हम आज आपको ऐसे ही महान कवि और सूफी संत से मिलवाते हैं.
Lucknow Central Trailer 2017, सपने या आजादी

रूमीJalaluddin Rumi (जलालुद्दीन रूमी) फारसी साहित्य के महान कवि और एक बहुत ही प्रभावशाली रहस्यवादी सूफी थे इनका जन्म 30th September, 1207 में हुआ था. रूमी को उस वक्त के लोग अपना आध्यात्मिक गुरु मानते थे
रूमी का जीवन बहुत ही रहस्यमय आध्यात्मिक विचार, प्रेम और ईश्वर की भक्ति से और दर्शन से ओत-प्रोत है . रूमी के विचार और फिलॉसफी आज भी उतने ही प्रेरणादायक है जितना उनके वक्त था.

रूमी

Best Quotes and Pros of Rumi:

  • जैसे ही मैंने अपनी पहली प्रेम कहानी सुनी
    मैंने तुम्हें ढूंढना शुरू कर दिया,बिना यह जाने कि वह खोज कितनी अंधी थी प्रेमियों का कहीं मिलन नहीं होता.वे तो हमेशा एक-दूसरे के भीतर होते हैं.
  • आपका काम प्रेम को खोजना नहीं है
    आपका काम है अपने भीतर के उन तमाम रुकावटों का पता लगाना
    जो आपने इसके रास्ते में खड़ी कर रखी हैं
    अपनी चतुराई को बेच दो और हैरानी खरीद लो
    सुरक्षा को भूल जाओ
    वहां रहो, जहां रहने में आपको डर लगता है
    अपनी प्रतिष्ठा को मिटा दो
    बदनाम हो जाओ
  • अपने जीवन को बदलने के लिए आपको केवल एक व्यक्ति की आवश्यकता होती है, वह है आप खुद.
  • दूसरों के साथ क्या हुआ
    इन कहानियों से संतुष्ट मत हो जाओ
    अपने भ्रम को खुद ही दूर करो
  • मौन ही ईश्वर की भाषा है
    बाकी सब तो उसका एक बेकार सा अनुवाद है
  • अपनी आंखों को शुद्ध करो और इस निर्मल दुनिया को देखो, आपका जीवन कांतिमान हो जाएगा.
  • अपने शब्दों को ऊँचा करो आवाज को नहीं! यह बारिश है जो फूलों को बढ़ने देती है इसकी गर्जन नहीं.
  • जो शब्द दिल से निकलते हैं, वह दिल में ही प्रवेश करते है.
  • पिघलते हुए बर्फ की तरह बनो
    खुद को खुद से ही धोते रहो
  • जब आप अपनी आत्मा के साथ काम करते हैं, तो आपको लगता है कि आपके अंदर खुशी की एक नदी बह रही है.
  • कल मैं चालाक था, इसलिए मैं दुनिया बदलना चाहता था, आज मैं बुद्धिमान हूँ, इसलिए मैं अपने आप को बदल रहा हूँ.
  • जिस काम से आप प्यार करते हैं वह आपका पेशेवर व्यवसाय बने तो, इसकी सुंदरता बेमिसाल होगी.
  • जब दुनिया आप को आपके घुटनों पे धकेल देती है तो यह उत्तम स्थिति बन जाती है भगवान से प्रार्थना करने के लिए.
  • हर इंसान कुछ विशेष काम के लिए बनाया गया है, और उस काम को करने की इच्छा हर दिल में डाल दी गई है. (इसलिए अपने दिल की आवाज सुने और अपना पसंदीदा काम ढूंढ कर करे, इसमें आप बहुत बेहतर करेंगे)
  • दुनिया हमें यह कहकर मूर्ख बनाती है कि हमें कल का इंतजार करना चाहिए, जबकि जीवन का आनंद तो इसी क्षण में है जिसमें आप जी रहे हैं.
  • जब आप संघर्ष (Struggle) के दौर से गुजरते हैं, जब सब आप का विरोध करने लगते है, जब आपको लगता है कि आप एक मिनट भी सहन नहीं कर सकते हैं, कभी हार न माने! क्योंकि यही वह समय और स्थान है जब आपका अच्छा समय शुरू होगा.
  • जब आप अपनी आत्मा के साथ काम करते हैं, तो आपको लगता है कि आपके अंदर खुशी की एक नदी बह रही है.
  • दुनिया में लोग पहले खुद को नहीं देखते है और इस लिये वह एक दूसरे पर आरोप लगता है.
  • कर्म करने में ही अधिकार है, फल में नहीं , कर्म सरल है, विचार कठिन  अपने काम में सुंदरता तलाशो, उससे सुंदर और कुछ हों ही नहीं सकता.
  • प्रेम के अलावा, सब कुछ बीत जाता है, स्वर्ग जाने का रास्ता आप के दिल से हो कर गुजरता है, वहां पहुँचने के लिए अपने प्रेम के पंखों को खोलो और उड़ जाओ
  • एक बार तुम्हारे भीतर का गुलाम गायब हो जाए, तो तुम बादशाहो के बादशाह हो .
  • जो कुछ भी आप खो बैठते हैं उसका शोक न करें, वह किसी अन्य रूप में घूम कर आपके पास वापस लौट आता है .
  • प्रेम अपने आप सभी भाषाओं के माध्यम से अपना रास्ता खोज ही लेगा.
  • आपका काम प्यार की तलाश करना नहीं है, बल्कि केवल अपने भीतर की सभी बाधाएं तलाशने और ढूंढना है जो आपने इसके खिलाफ बनाई है.
  • आपकी मंजिल आपको ढूंढ रही है .
  • मौन भगवान की भाषा है .
  • मैं पक्षियों की तरह गाना चाहता हूं, मैं इसके बारे में चिंतित नहीं हूं कि कौन सुनता है या वे क्या सोचते हैं.
  • केवल दिल से ही आप आकाश को छू सकते हैं.
  • गुडबाय केवल उन लोगों के लिए हैं जो अपनी आँखों से प्यार करते हैं क्योंकि दिल और आत्मा से प्रेम करने वालों के लिए अलग होने की कोई चीज नहीं है.
  • खटखटाओ और वह दरवाजा खोल देगा
    मिट जाओ, वह आपको इतना चमकदार बना देगा जैसे सूर्य
    गिर जाओ, वह आपको स्वर्ग तक उठा देगा.

‘जलालुद्दीन रूमी एक महान सूफी संत थे  वह प्रकृति को समझने वाले उसे महसूस करने वाले  बेहद खूबसूरत इंसान थे, लेकिन आज की दुनिया में एक पागल और अनजान शख्स लगते हैं रूमी को समझने के लिए आपको दिमाग से नहीं दिल से सोचना होगा आपको नाकवहना होगा अपने अस्तित्व को समझने के लिए आपको अपने अंदर पल रहे अहंकार की भावना को मिटाना होगा. ज़िंदगी में कई ऐसे मौके आते हैं जब हम हताश और निराश होकर बैठ जाते हैं इन्ही मौकों पर हमे जरूरत है साहस दिखने की, ताकि हम खुद के भीतर छिपे संभावनाओं के सागर का पता लगा सकें .

इमली के फायदे और नुकसान

इमली नाम आते ही हम सबका मन उसे खाने को ललचा उठता है लेकिन खाने  के नाम पर आज तक या तो डांट पड़ी है या फिर लम्बी नसीहतें सुनने को मिली हैं.
Lucknow Central Trailer 2017, सपने या आजादी

इमलीलेकिन आज हम इमली के कुछ ऐसे गुण आपके लिए लाएं हैं कि अगर आपको अब कोई नसीहत दे तो आप उसे फायदे गिनवा कर चुप करा सकतें हैं ज्यादातर लोगो की पसंदीदा डिश पानी -बताशे /पानी पूरी/गोलगप्पा ही होती जिसका पानी इमली से ही बनता है मेले में सबसे ज्यादा भीड़ गोलगप्पे के ही ठेले पर होती है.स्वाद के अलावा इसमें ब्यूटी को बढ़ाने और औषधिय गुण भी है इसलिए अब आप इससे से होने वाले फायदों के बारे में जानिए और अपनाने की कोशिश करें

खाने में इमली का प्रयोग:
इमली का फल कच्चा हरा होता है और पकने के बाद लाल रंग का हो जाता है.पकी इसका स्वाद खट्टा-मीठा होता है. पकी इमली का प्रयोग खट्टी सब्जी के लिये करते है। इसकी चटनी भी बनाते हैं. इससे सब्जी स्वादिष्ट बन जाती है. दक्षिण भारतीय व्यंजनों में प्रयोग किये जाने वाले सबसे सामान्य मसालों में से एक है. उत्तर भारत के लोग मसालों में में इसका प्रयोग काम ही करते हैं. इमली के पेड़ का वैज्ञानिक नाम टामारिंडस इंडिका है.

एनीमिया में कारगर:
इमली
आपको बता दें कि इमली में काफी मात्रा में आयरन होता है जो कि लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने के लिए जरूरी है ये कोशिकाएं शरीर में ऑक्सीजन (oxygen) का संचार करती हैं.  एनीमिया  गंभीर समस्या है इस रोग के कारण कमज़ोरी और ध्यान लगाने में मुश्किल आती हैं जिससे लोगों की ज़िंदगी काफी बुरी तरह प्रभावित होती हैं. इसमें मौजूद आयरन की मात्रा एनीमिया का उपचार करने तथा शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करती है.

स्कर्वी को दूर करे:
इमली
इमली में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर में एक मुख्य विटामिन की भूमिका अदा करती है. विटामिन सी की कमी से कई समस्याएं जैसे स्कर्वी आदि हो सकती हैं . विटामिन सी की कमी को तनाव और थकान से भी जोड़कर देखा जाता है. अगर आपको लगता है कि आपके खानपान में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा नहीं है तो अपने रोजाना के भोजन में इमली के अंश को सम्मिलित करके आप अपनी विटामिन सी की ज़रूरतों को पूरा कर सकते हैं.

मधुमेह के उपचार में  (Helps in diabetes management):
इमली डायबटीज़ के नियंत्रण पर सहायक होती है  पर नियंत्रण करने में भी प्रभावी साबित होती है। इस फल का गूदा पारंपरिक औषधियों में प्रयोग किया जाता है. इमली का प्रयोग भोजन करने के बाद रक्त के ग्लूकोस (glucose) के स्तर में हुई वृद्धि को नियंत्रित करने के लिए होता है. अपने भोजन में इसे शामिल करने से रक्त के ग्लूकोस के स्तर को नियंत्रित किया जा सकता है, जो कि मधुमेह के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है

वज़न नियंत्रित करने में सहायक (Helps in weight management):
इमली

इमली में फाइबर (fiber) की काफी उच्च मात्रा होती है जिसकी वजह से इससे  आपकी भूख भी मिटती है और कैलोरी (calorie) का सेवन भी नहीं होता.अगर आप वज़न घटाने की कोशिश कर रहे हैं तो आपको ऐसे आहार लेना चाहिए जिसमे कैलोरी कम हो पर जिसमें पोषक तत्व तथा फाइबर्स की मात्रा ज़्यादा हो. इमली एक ऐसा फल है जो इन सारी ज़रूरतों को पूरा करती है.

त्वचा के संक्रमणों को ठीक करे (Cures skin infections):इमली
इमली में (antimicrobial) गुण होता है और यह त्वचा को सुकून भी प्रदान करता है. कीड़े के काटने या त्वचा के खुजली या त्वचा के लाल हो जाने की स्थिति में इमली का गूदा काफी प्रभावी साबित होता है. गूदा, हल्दी के साथ मिलाकर लगाने से दिक्कत कम होती है. इसके रस का सेवन करने से आपकी  त्वचा काफी बेहतर हो जाती है, क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट तथा विटामिन सी की मात्रा रहती है.

थाइरइड की समस्या को ठीक करे (Cures thyroid disorders):इमलीइमली का प्रयोग थायराइड की समस्या के उपचार के लिए भी किया जाता है. इसमें मौजूद तत्व और इसमें भरपूर खनिज पदार्थों की मौजूदगी थायराइड ग्रंथियों के रिसने को नियंत्रित करती है और इस तरह ज़्यादा या कम प्रतिक्रिया करने वाली थायराइड ग्रंथियों की समस्या को ठीक करने में यह मददगार साबित होता है.

Best Quotes of Mahatma Gandhi

Mahatma Gandhi Quotes!!!

Mahatma Gandhi Quotes

Mahatma Gandhi Quotes!!! दोस्तों बापू ने ऐसा जीवन जिया है कि वो हम सभी के प्रेरणास्रोत हैं. और उनके विचार हमेशा हमें सही और अहिंसा के रास्ते पर चलना सिखाते हैं . बापू का पूरा जीवन ही अनुकरण करने लायक है. लेकिन आप सच में उनको सच्ची श्रद्धांजलि देना चाहते हैं तो Mahatma Gandhi Quotes को अपने जीवन में जरूर अपनाएं.
बापू के जीवन से जुड़ीं अनमोल बातें

Mahatma Gandhi Quotes:
  • The weak can never forgive. Forgiveness is the attribute of the strong.
    कमजोर कभी क्षमा नहीं करते ,क्षमा करना तो ताकतवर व्यक्ति की विशेषता है.
  • Happiness is when what you think, what you say, and what you do are in harmony.
    आप तब खुश होते हैं जब आप जो सोचते हैं, जो कहते हैं और जो करते हैं सामंजस्य में हों.
  • You must not lose faith in humanity. Humanity is an ocean; if a few drops of the ocean are dirty, the ocean does not become dirty.
    इंसानियत से आपका भरोसा कभी नहीं उठना चाहिए क्योंकि समुद्र की कुछ बूंदे गंदी होने से समुद्र गंदा नहीं होता .Mahatma Gandhi Quotes
  • Live as if you were to die tomorrow. Learn as if you were to live forever
    कुछ ऐसा जीवन जियो जैसे की तुम कल मरने वाले हो, कुछ ऐसा सीखो जिससे कि तुम हमेशा के जीने वाले हो.
  • An eye for an eye only ends up making the whole world blind.
    आँख के बदले आँख ही पूरी दुनिया को अँधा बना देगी.
  • The best way to find yourself is to lose yourself in the service of others.
    अपने आपको को ढूँढना है तो लोगों की मदद में खो जाओ.
  • First they ignore you, then they laugh at you, then they fight you, then you win.
    पहले वह आपकी उपेक्षा करेंगे, उसके बाद आपका मजाक उड़ाएंगे हसंगे, उसके बाद आपसे लड़ाई करेंगे, उसके बाद आप जीत जायेंगे.
  •  It is health that is real wealth and not pieces of gold and silver.
    स्वास्थय ही है जो हमारा सच्चा धन है, सोने और चांदी का मूल्य इसके सामने कुछ नहीं.
  • When I admire the wonders of a sunset or the beauty of the moon, my soul expands in the worship of the creator.
    जब में सूर्यास्त और चन्द्रमा के सौंदर्य की प्रसंशा करता हूँ, मेरी आत्मा इसके निर्माता के पूजा के लिए विस्तृत हो उठती है.
  • Where there is love there is life.
    जहाँ प्रेम है वहीँ जीवन है.
  • Power is of two kinds. One is obtained by the fear of punishment and the other by acts of love. Power based on love is a thousand times more effective and permanent then the one derived from fear of punishment.
    शक्ति दो प्रकार की होती है! एक उत्पन्न होता है दंड के डर से और एक प्यार से, प्यार की शक्ति हमेशा हज़ार गुना ज्यादा प्रभावी होता है.
  • We may stumble and fall but shall rise again; it should be enough if we did not run away from the battle.
    हो सकता है हम ठोकर खाकर गिर पड़ें पर हम उठ सकते हैं, लड़ाई छोड़कर भागने से बहुत अच्छा होगा .
  •  A nation’s culture resides in the hearts and in the soul of its people.
    एक देश की संस्कृति दिलों में और अपने लोगों की आत्मा में रहता है.
  • Truth is one, paths are many.
    सत्य एक है, मार्ग कई.
  •  In doing something, do it with love or never do it at all.
    कुछ करना है, प्यार से करें या तो ना करे.
  • Strength does not come from physical capacity. It comes from an indomitable will.
    शक्ति शारीरिक क्षमता से नहीं आती है. एक अदम्य इच्छा शक्ति से आता है.
  • Prayer is the key of the morning and the bolt of the evening.
    प्रार्थना सुबह की कुंजी है और शाम का सौंदर्य है.
  • You can chain me, you can torture me, you can even destroy this body, but you will never imprison my mind.
    तुम मुझे चैन में बांधो, या मेरे साथ यंत्रणा या अत्याचार करो, या मेरे शरीर को  को नष्ट कर दो, परन्तु तुम मेरे मन को कैद नहीं कर सकते.
  • The greatness of a nation can be judged by the way its animals are treated.
    किसी भी राष्ट्र की महानता उस राष्ट्र के पशुओं के प्रति प्रेम और व्यव्हार से पता चलता है.
  • There is a higher court than courts of justice and that is the court of conscience. It supersedes all other courts.
    वहाँ न्याय के न्यायालयों की तुलना में एक उच्च न्यायालय है और जो कि अंतरात्मा की अदालत है. यह अन्य सभी अदालतों को प्रतिस्थापित करता है.
  •  In a gentle way, you can shake the world.
    एक विनम्र तरीके से, आप दुनिया को हिला सकते हैं.
  • A man is but the product of his thoughts what he thinks, he becomes.
    मनुष्य अपने विचारों से निर्मित एक प्राणी है, वह जो सोचता है वही बन जाता है.
  •  Fear has its use but cowardice has none.
    डर का उपयोग होता है, लेकिन कायरता का कुछ नहीं है.
  • I look only to the good qualities of men. Not being faultless myself, I won’t presume to probe into the faults of others.
    मैं सिर्फ लोगों के अच्छे गुणों को देखता हूँ , ना की उनकी गलतियों को गिनता हूँ.
  • Faith is not something to grasp, it is a state to grow into.
    विश्वास कोई बटोरने की चीज नहीं है, यह तो विकसित करने की चीज है.
  •  A coward is incapable of exhibiting love; it is the prerogative of the brave.
    एक कायर प्रेम का प्रदर्शन करने के काबिल नहीं है; यह बहादुर का विशेषाधिकार है.
  • Each night, when I go to sleep, I die. And the next morning, when I wake up, I am reborn.
    हर रात, जब मैं सोने जाता हूँ, मैं मर जाता हूँ और अगले दिन सुबह, जब मैं उठता हूँ, मेरा पुनर्जन्म होता है.

Mahatma Gandhi Quotes

  • Hate the sin, love the sinner.
    पाप से घृणा करो, पापी से प्रेम करो.
  • Confession of errors is like a broom which sweeps away the dirt and leaves the surface brighter and clearer.
    अपनी गलती को स्वीकारना झाड़ू लगाने के समान है जो सतह को चमकदार और साफ़ कर देता है.
  •  Non-violence requires a double faith, faith in God and also faith in man.
    अहिंसा को दो प्रकार से विश्वास की जरूरत होती है, भगवन पर विश्वास और मनुष्य पर विश्वास.
  • An ounce of practice is worth more than tons of preaching.
    थोडा सा अभ्यास बहुत सारे उपदेशों से बेहतर है.
  • Action expresses priorities.
    प्रक्रिया प्राथमिकता व्यक्त करती है.
  • Silence is the strongest speech. Slowly and gradually world will listen to you.
    मौन सबसे सशक्त भाषण है, धीरे-धीरे दुनिया आपको सुनेगी.
  • The real ornament of woman is her character, her purity.
    महिला का वास्तविक आभूषण उसका चरित्र, उसका पवित्रता है.
  • We may have our private opinions but why should they be a bar to the meeting of hearts.
    हमारे निजी राय हो सकते हैं परन्तु वह दो दिलों के बिच आने का विषय क्यों बनें.

Mahatma Gandhi Quotes

  •  Whatever you do may seem insignificant to you, but it is most important that you do it.
    आप जो भी करते है आपको तुच्छ लग सकता है, लेकिन यह महत्वपूर्ण है कि आप कर सकते हैं.
  •  God has no religion.
    भगवान का कोई धर्म नहीं है.
  • Honest disagreement is often a good sign of progress.
    ईमानदार असहमति अक्सर प्रगति का एक अच्छा संकेत है.
  • Even if you are a minority of one, the truth is the truth.
    भले ही आप एक अल्पसंख्यक हैं, सच तो सच ही है.
  • I will not let anyone walk through my mind with their dirty feet.
    मैं किसी को भी अपने गंदे पाँव के साथ मेरे मन से नहीं गुजरने दूंगा.
  • Morality is contraband in war.
    नैतिकता युद्ध में वर्जित है.

Interview में हमेशा करेंगे Rock कभी नहीं होंगे Flop

Interview tips!!! दोस्तों इंटरव्यू एक ऐसी चीज है जिससे हम सब को कभी ना कभी गुजरना ही पड़ता है. और अगर Preparation सही तरीके से की गयी हो तो सफलता आपके क़दमों में होगी. लेकिन आप बस ऐसे ही मुँह उठाकर चले गए बिना किसी तैयारी के तो दोस्तों शर्मिंदगी के अलावा आपको जो सबसे ज्यादा परेशान करेगा वो है अपनी Qualities पर शक. इसलिए कहीं भी जाये पूरी तैयारी के साथ अपना Best दें.
Migraine कारण,लक्षण, बचाव और उपचार

Interview tipsदोस्तों जो व्यक्ति आपका इंटरव्यू ले रहा है उसके दिमाग में पहले से ही कुछ चीजे तय रहती हैं आप उसको नहीं बदल सकते आपको खुद को उनके Requirements के हिसाब से ढ़ालना पड़ता है. दोस्तों Interview tips के साथ साथ हम आपको ऐसी ही Qualities के बारे में बता रहें हैं जिनको नियोक्ता देखता हैं.दोस्तों ये Qualities कोई एक नहीं बल्कि सभी नियुक्ति करने वाले लोग आपमें देखना चाहेंगे.

Intelligence:Interview tipsदोस्तों अगर आप बुद्धिमत्ता से इंटरव्यू लेने वाले के हर सवाल का जवाब देतें हैं तो समझ जाइए की आपका Selection sure हैं. दोस्तों ऐसा माना जाता हैं कि किसी भी व्यक्ति के 76 प्रतिशत काम की क्षमता की पहचान उसकी बुद्धिमता से हो जाती है.

Multitasking:Interview tips

दोस्तों अगर आप किसिस कंपनी के यह उम्मीद  दिला सकें कि आपको Hire करना उसके लिए फायदे का सौदा हैं तो यकीन मानिये वो आपको नियुक्त जरूर करेंगे. इसके लिए नियोक्ता‍ देखता हैं कि आपको अपने फील्ड के अलावा दूसरी फील्ड  के काम की जानकारी भी हों. इसलिए अगर आपको जॉब चाहिए तो मल्टीटास्किंग होना बेहद जरूरी है.तो दोस्तों एंट्री लेने से पहले अपने आप को इस तरह से तैयार कर लीजिये की कोई आपको ना कह ही ना पाएं.

Communication:Interview tipsदोस्तों चाहे आप किसी भी पेशे में हो खुद को व्यक्त करना आपको आना ही चाहिए. दोस्तों  नियुक्ति करने वाले को हमेशा वहीं व्यक्ति पसंद आता है, जो अपनी बातों को खुद को Express कर पाए. अगर आपकी communication skill अच्छी नहीं हैं तो नियुक्त करने वाले को आपके तम्माम खूबियों के बावजूद भी ऐसा लगता है कि आप काम नहीं कर पाएंगे. इसलिए इंटरव्यू  देने जाने से पहले communication skill को सुधार लें वैसे भी किसी ने कहा है “आप अपने बात करने की कला को थोड़ा सुधार लें वरना ये आपकी ज़िंदगी बिगाड़ सकती हैं ”

Team work:Interview tips

दोस्तों कुछ लोगों की आदत होती है वो हर काम को अकेले करना पसंद करते हैं अगर आपके अंदर भी यह आदत हैं तो तुरंत इसे बदल लें क्योंंकि किसी भी संस्था में आपको एक टीम के रूप में काम करना होगा नियुक्ति करने वाला व्यक्ति उन लोगों को जॉब देना चाहते हैं, जिनके अंदर टीम वर्क की क्वालिटी मौजूद हो. जब भी आप कोई कंपनी ज्वॉइन करते हैं, तो आपको आपको टीम के साथ मिलकर पूरा करना होता है. इसलिए इंटरव्यू में नियोक्ता यह देखता है.

ड्रेसिंग और लुक(Dressing & Look) :
दोस्तों ड्रेसिंग का प्रभाव हर किसी पर पड़ता है इसलिए जब भी इंटरव्यू के लिए जाएं अपने कपड़ों और लुक का ध्यान रखें.

इंडस्ट्री के अनुसार ड्रेस का चयन:Interview tips
जी हाँ दोस्तों आपकी ड्रेसिंग पूरी तरह से निर्भर करती है कि आप किस तरह की इंडस्ट्री के लिए काम करते हैं. दोस्तों अगर आप किसी कॉर्पोरेट ऑफिस में इंटरव्यू के लिए जा रहे हैं तो आपको फॉर्मल पोशाक जैसे कि शर्ट और पैंट पहनना चाहिए. आप अगर फिल्म इंडस्ट्री में मॉडलिंग इंटरव्यू देने जा रही हैं तो Simplicity काम बिगाड़ सकती है इसलिए इंडस्ट्री का ध्यान रखना बहुत जरूरी है.

डार्क चीजों का इस्तेमाल ना करें:Interview tips
दोस्तों कुछ लोगों को डार्क रंग बहुत पसंद होता है और उन्हें लगता है कि इंटरव्यू के लिए वह जितना हैवी मेकअप करके जाएंगी, उनके सेलेक्ट होने की संभावना भी उतनी ही बढ़ जाएगी. ज्यादा चटख रंग, चमकीले भड़किले कपड़े, गहने और मेकअप, इनसे इंटरव्यू के दौरान बचना चाहिए. दोस्तों ऐसा करने से ऐसा सन्देश जाता है कि आप बहुत ऑब्सेस्सेड है और खुद के अलावा किसी चीज पर ध्यान नहीं देती इसलिए अपने मेकअप को हल्का ही रखें और कपड़े भी जितना सिंपल हो तो बेहतर होगा.

ज्यादा प्रयोग करने की कोशिश ना करें:
Interview tips की इस कड़ी में हम हम ये बता रहे है कि दोस्तों कभी कभी कुछ नया और अलग करने के चक्कर में गड़बड़ हो जाती है इसलिए इंटरव्यू में जाने के लिए आप कभी भी अपने लुक पर ज्यादा प्रयोग ना करें. आप जो सामान्य दिनों में करते हैं वहीं करें आप कुछ नया करने के बदले खराब भी दिख सकती हैं. इंटरव्यू में ऐसे ही कपड़े पहनकर जाए, जिससे लगे कि आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं.

दोस्तों अभी तक तो बात स्किल और ड्रेसिंग की थी अब बात आती है शारीरिक भाषा यानी बॉडी लैंग्वेज की. चाहे आपमें कितना भी टैलेंट क्यों ना भरा हो आपका व्यवहार कितना भी अच्छा क्यों न हो, अगर उसकी बॉडी लैंग्वेज खराब है तो इसका सामने वाले पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. ऐसे में जरूरी है‍ कि हम जो सोच रहे हैं, जो बोल रहे हैं उसका हमारी शारीरिक भाषा के साथ सामंजस्य हो.बॉडी लैंग्वेज का कामकाज और सफलता पर भी गहरा प्रभाव पड़ता है.

आपकी चाल(Walking Style):Interview tips
बेफिक्र या अल्हड़ अंदाज में चलने को सामने वाले व्यक्ति का अनादर माना जाता है. यह दिखाता है कि आपका सामने वाले की बातों में कोई रुचि नहीं है और आप उसकी कोई फिक्र नहीं करते. ऐसे में एकदम साढ़े क़दमों से चले .

 बार बार घड़ी देखना:Interview tips
दोस्तों किसी से बात करते समय उसकी आंखों में देखकर बात करें. यह बताता है कि आपके अंदर आत्मविश्वास है. नजरें चुराना या बार-बार घड़ी की ओर देखना गलत है. यह आपकी अरुचि दिखाता है ऐसा करने से बचें. दोस्तों Interview tips के इस फार्मूला को अनदेखा ना करें.

हद से ज्यादा सिर हिलाना:
कुछ लोग को हर बात में सिर हिलने की आदत होती है सामने वाले की बात से सहमत होने पर हम सिर हिलाकर उसका समर्थन करते हैं, लेकिन बेवजह हर बात पर या हद से अधि‍क सिर हिलाने से बचें.

दोस्तों अब जब अगली बात Interview में जाएं तो बताई गयी Interview tips की बातों का ध्यान रखें आपको सेलेक्ट होने से कोई नहीं रोक पाएगा.

गुणों की खान है टमाटर

टमाटर के गुण!!दोस्तों टमाटर में कई ऐसे गुण होते हैं जिनसे हम अंजान है. आपको बता दें दोस्तों की टमाटर को हम Health और Beauty दोनों के लिए प्रयोग कर सकते हैं.
टमाटर पर किए गए Research के बाद यह पाया गया टमाटर सब्जी नहीं, बल्कि पौष्टिक व गुणकारी फल है.

अध्यात्म जरुरी है मन के लिए

Pregnancy के दौरान स्त्रियों के शरीर में Iron की कमी को पूरा करने वाला टमाटर को स्वादिष्ट व गुणकारी फल माना जाता है. दोस्तों टमाटर में भरपूर मात्रा में Calcium, Phosphorus और vitamin C पाये जाते हैं. दोस्तों लोग सूप भी पीते हैं और यह सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक है.

टमाटर के गुण और फायदे:

  • अगर एनीमिया का रोगी रोगी को रोजाना दो सौ ग्राम टमाटर का रस पीने से बहुत लाभ होता है.
    टमाटर के गुण
  • अगर किसी को पीलिया है तो उसके लिए टमाटर का रस बाहत गुणकारी हैटमाटर के गुण
  • अगर आपका वजन कम हैं और तमाम नुस्खों को आजमा कर देख चुके हैं तो खाने के साथ टमाटर भी शामिल करें इससे आपका वजन बढ़ जाएगा.टमाटर के गुण
  • पेट में कीड़े ख़त्म करने में भी टमाटर बहुत फायदेमंद है. टमाटर के टुकडों पर या रस में काली मिर्च का चूर्ण और सेंधा नमक डालकर खाएं.
  • दोस्तों टमाटर खाने से न केवल मुंह के छाले दूर होते हैं बल्कि कब्ज की समस्या भी दूर होती है.टमाटर के गुण
  • दांतों में खून की समस्या का अनुभव होते ही रोजाना टमाटर का रस सुबह-शाम पीने से बहुत लाभ होता है. यह स्कर्वी रोग में सहायक है.टमाटर के गुण
  • भोजन के प्रति अरूचि होने या भूख न लगने की स्थिति में टमाटर के रस में अदरक का रस और नींबू का रस मिलाकर पीने से भूख अधिक लगती है.टमाटर के गुण
  • गर्मियों में अधिक प्यास की विकृति होने पर टमाटर के रस में दो-तीन लौंग का चूर्ण मिलाकर पीने से बहुत लाभ होता है.
  • अदरक, पोदीना, धनिया और सेंधा नमक को टमाटर के साथ पीसकर चटनी बनाकर भोजन के साथ सेवन करने से भूख बढ़ती है.
  • टमाटर का रस सुबह-शाम पीने से रतौंधी की विकृति नष्ट होती है.
  • टमाटर को काटकर उन पर सोंठ का चूर्ण और सेधा नमक डालकर खाने से पाचन क्रिया तीव्र होती है
  • गर्भावस्था में स्त्रियों को टमाटर का रस रोजाना पीना चाहिए, इससे खून निकलने की समस्या दूर होती है.टमाटर के गुण
    तो देखा आपने दोस्तों एक टमाटर और इतने सारे फायदे तो क्यों न टमाटर के सेवन को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लिया जाये.