धनतेरस 2017, शुभ मुहूर्त मंत्र पूजा विधि

धनतेरस 2017!! इस समय मौसम त्योहारी रंग में नहाया हुआ है. इस आकर्षक फेस्टिव सीजन की शुरुआत हो चुकी है. बाजारों की रौनक भी एक अलग रंग में है. कल से दिवाली सीजन आपके मन को खुशनुमा बनाने आ रहा है.

ऐसे पूजा करके मां लक्ष्मी को दिवाली पर घर में आमंत्रित करें

धनतेरस 2017

दिवाली सीजन के त्यौहार की शुरुआत धनतेरस के साथ होती है. धनतेरस दिवाली सीजन में सबसे पहला त्यौहार माना जाता है. धनतेरस पर लोग खूब खरीदारी करते हैं. खरीदारी करना इस दिन बहुत शुभ माना जाता है.

दिवाली के लिए बेस्ट गिफ्ट आइडियाज यहां से लें

कब करें धनतेरस 2017 की खरीदारी:
धनतेरस पर खरीदारी करने का शुभ समय शाम को माना जाता है. शाम से लेकर रात तक बाजारों में लोग बड़े उत्साह के साथ खरीदारी करते हैं.

धनतेरस पर लोग सोने चांदी के आभूषण, बर्तन, झाड़ू और वाहनों की खरीदारी करते हैं. इनकी खरीदारी करना अच्छा माना जाता है. धनतेरस पर पूजा का­­­ भी एक शुभ मुहूर्त होता है. जिस पर आप विधि-विधान के साथ पूजा-पाठ करके अपने साल को अच्छा बना सकते हैं. भगवान की कृपा आप पर हमेशा बनी रहेगी.

कब है धनतेरस 2017:
धनतेरस 2017 का त्यौहार इस बार मंगलवार यानी 17 अक्टूबर 2017 को मनाया जाएगा. धनतेरस पर माता लक्ष्मी के साथ धन के मालिक कुबेर की पूजा की जाती है. लोग अपने घरों में कुबेर देवता की मूर्ति को भी स्थापित करते हैं.

पूजा का शुभ मुहूर्त:
धनतेरस के दिन पूजा-अर्चना का शुभ मुहूर्त शाम 6.57 से रात्रि 8.49 तक रहेगा. मुहूर्त के निश्चित समय में पूजा करने से भक्त जनों को अच्छा लाभ मिलता है.

इस मंत्र से करें धन के देवता का जाप:
देवान कृशान सुरसंघनि पीडितांगान, दृष्ट्वा दयालुर मृतं विपरीतु कामः
पायोधि मंथन विधौ प्रकटौ भवधो, धन्वन्तरि: स भगवानवतात सदा नः
ॐ धन्वन्तरि देवाय नमः ध्यानार्थे अक्षत पुष्पाणि समर्पयामि

धनतेरस पूजन विधि:
यूं तो पूजा सब अपने-अपने तरीके से करते हैं लेकिन फिर भी हर पूजा को करने की एक विधि होती है. जिसके अनुसार आप अपनी पूजा को और भी फलदायी बना सकते हैं.
तो चलिए जानते हैं धनतेरस के दिन की पूजन विधि क्या होनी चाहिए.

  • सबसे पहले पूजन के स्थान की सफाई करें
  • उसके बाद एक चौकी रखें
  • चौकी पर एक साफ कपड़ा बिछाकर उस पर लक्ष्मी माता और भगवान धनवंतरी की तस्वीर रखें
  • गंगाजल से छिड़काव
  • एक दीपक लें और उस पर सिंदूर और अक्षत का तिलक लगाकर उस में तेल डालकर भगवान के सामने दीप प्रज्वलित करें
  • भगवान को भोग लगाएं और कुछ पैसे भी चढ़ाएं
  • कुछ देर भगवान का ध्यान करें. और ऊपर बताए गए मंत्र का जाप करें
  • तत्पश्चात पूजा समाप्त होने के बाद दीपक को घर के मुख्य द्वार पर रख दें.
    dhanteras par kya kharide
    तो इस प्रकार आप भी ऊपर बताएं गई पूजा विधि के अनुसार पूजा करें और भगवान के मंत्र का जाप करें और अपनी धनतेरस को खुशहाल बनाए. परिवार की सुख समृद्धि के लिए कामना करें.

Happy Dhanteras!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *