अध्यात्म जरुरी है मन के लिए

दोस्तों अध्यात्म हमारी आत्मा और मन के लिए सबसे जरुरी की है. जब हम अध्यात्म की बात करते हैं तो बहुत से युवा घबरा जाते हैं मानों उन्हें आध्यात्मिक होने के लिए सभी धार्मिक नियमों का पालन करना होगा. लेकिन दोस्तों धर्म का अध्यात्म से सम्बन्ध होता है लेकिन इसका मतलब बिल्कुल यह नहीं है कि अध्यात्म के करीब आने के लिए हमें धार्मिक होना पड़ें. हम धार्मिक हुए बिना भी अध्यात्म के करीब हो सकते है.

पैरों में सूजन कहीं इस कारण तो नहीं

हम सब इस ब्रह्माण्ड के अंदर एक ऊर्जा द्वारा जुड़े हैं, जो ब्रह्माण्ड को नियंत्रित करती है. जब हम इस ऊर्जा को बेहद करीब से महसूस करते हैं तब हम अध्यात्मिकता की तरफ बढ़ते हैं. अध्यात्मिक होने के लिए हमे बस कुछ चीजों का ध्यान रखना होगा.

लोगों से प्यार करें:अध्यात्म
दोस्तों कई बार ऐसा होता है कि हम अपने परिवार को, अपने दोस्तों को प्यार करना भूल जाते हैं. हम उन्हें ये एहसास कराना भूल जातें है कि वो हमारे लिए कितने जरूरी हैं. हम अपनी जिंदगी में इतने मशगूल हो जाते हैं कि दूसरों के लिए वक्त नहीं निकाल पाते. अपने परिवार वालों, अपने दोस्तों के साथ समय बिताने से दिमाग में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, ये सकारात्मक ऊर्जा अध्यात्म के लिए बेहद जरुरी होती है.

सहनशील बनें:अध्यात्म
आजकल के तनाव भरी ज़िंदगी मेंहम बिल्कुल असहनशील होते जा रहे हैं . और यहीं नाकारत्मकता रिश्तों में कड़वाहट की असली वजह है . हमें उन लोगों के साथ भी नम्रता से पेश आना चाहिए जो हमें पसंद नहीं होते या फिर जिन्होंने हमारा कभी कोई नुकसान किया हो. ऐसे लोगों से भी जहां तक संभव हो प्यार से ही पेश आएं। ऐसा करने से आपके मन को शांति तो मिलेगी ही साथ ही साथ इन लोगों में भी सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा.

अपने अच्छे रूप के पास आएं :अध्यात्मदोस्तों कुछ लोग आपकी ज़िंदगी में ऐसे होते हैं जिनकी तरह आप बनना चाहतें हैं. छोटे-छोटे लक्ष्य निर्धारित करें और उन्हें पूरे करें ऐसा करना आपको बेहतर बना सकता है. आप जब भी मौका मिले मेट्रो में या बस में बैठें तो ध्यान खुद पर केन्द्रित करें. ऐसा करने से आप बाहर के शोर से बच सकेंगे। ऐसा करना आपको अपने आप से जुड़ने में मदद मिलेगी. इससे आपकी एकाग्रता बढ़ेगी और आप खुद को आध्यात्म से ज्यादा जुड़ा महसूस करेंगे. दोस्तों खुद को बेहतर बनाने की कोशिश करते रहें.

करें मनपसंद काम:अध्यात्म
दोस्तों हर किसी के जीवन में एक काम ऐसा जरूर होता है जिसे करने के बाद आपको ज्यादा आनंद आता हो, जिसे करके आप खुश होते हैं. उदाहरण के लिए अगर आपको लिखना पसंद है तो लिखें ऐसा करने से आप खुद को अपनी अंतरात्मा के करीब पाएंगे.

दूसरो की मदद करें:अध्यात्म
दोस्तों निःस्वार्थ भावना से दूसरों की मदद करना आदमी को खुद से जोड़ता है. अपने यह महसूस किया होगा की ऐसा करने से आंतरिक ख़ुशी मिलती है और शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. अपने कभी किसी को गिफ्ट देकर देखा है , उनके चेहरे पर आई मुस्कुराहट आपको लम्बे समय तक खुशी का एहसास दिलाएगी.

ध्यान लगाएं:अध्यात्मदोस्तों ध्यान को अगर हम अपने जीवन में शामिल कर लें तो हमारा जीवन शान्ति की तरफ बढ़ने लगेगा.दोस्तों आप रोजाना 15 मिनट के लिए मेडिटेशन करें. यह आपके आंतरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है. अगर आप मैडिटेशन ना भी करें तो कम से कम 15 मिनट के लिए रोजाना एक ही समय पर खाली बैठें और कुछ नहीं सोचें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *